भिलाई स्टील प्लांट में लगी भयंकर आग, 60 फीट ऊंची आग की लपटों में जलकर खाक हो चार मोटर और कीमती केबल

भिलाई इस्पात संयंत्र के रिफेक्ट्री मटेरियल प्लांट-2(आरएमपी-2) में लाइन किल्र क्रमांक-1 के 2.5 मोटर प्लेटफॉर्म में बुधवार की सुबह आग लग गई। यह प्लेटफॉर्म जमीन से करीब 40 फीट ऊंचाई पर है।

By: Dakshi Sahu

Published: 04 Mar 2021, 11:58 AM IST

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र के रिफेक्ट्री मटेरियल प्लांट-2(आरएमपी-2) में लाइन किल्र क्रमांक-1 के 2.5 मोटर प्लेटफॉर्म में बुधवार की सुबह आग लग गई। यह प्लेटफॉर्म जमीन से करीब 40 फीट ऊंचाई पर है। वहां से फिर लगभग 40 से 60 फीट आग की ऊंची लपटें उठ रही थी। इससे विभाग में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी भी मच गई थी। हादसे में किसी तरह की जनहानि नहीं हुई है। उपकरण व इलेक्ट्रिक केबल जलने से वजह से उत्पादन प्रभावित हुआ है। आग लगते ही विभाग के अधिकारियों ने तुरंत बीएसपी अग्रिशमन विभाग को सूचना दी। कुछ मिनट के अंदर ही चार दमकल वाहन मौके पर पहुंच गए। आग का नियंत्रित करने में दमकल जवानों को करीब डेढ़ घंटे लगे। 800 लीटर फोम कंपाउंड का इस्तेमाल हुआ।

12 मेंं चार मोटर जल गए, केबल भी खाक
आगजनी की घटना में आरएमपी-2 के लाइन किल्र क्रमांक-1 के 2.5 मोटर प्लेटफॉर्म में 12 बूस्टर पंप लगे थे जिसमें से चार पूरी तरह जल गए। एक मोटर भी क्षतिग्रस्त हुआ है। आसपास के फ्यूल डोजि़ंग पंप के केबल भी जलकर खाक हो गए। इसके कारण यहां उत्पादन बंद रखना पड़ा है। गनीमत रही है कि हादसे में किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है। समय रहते ही कर्मियों की सर्तकता से आग पर काबू पाया जा सका।

आग लगने का कारण पता लगाया जा रहा है
जन सम्पर्क विभाग, भिलाई इस्पात सयंत्र ने बताया कि भिलाई इस्पात सयंत्र के रिफेक्ट्री मटेरियल प्लांट-2 ( आरएमपी-2) में बुधवार की सुबह आग लग गई। सयंत्र के फायर ब्रिगेड की गाडिय़ां त्वरित पहुंचकर लगभग 40 मिनट में आग पर काबू पा लिया। आग के कारण फ्यूल डोजि़ंग पंप के केबल जले हैं। उत्पादन को जल्द से जल्द सामान्य करने आरएमपी-2 बिरादरी जुटी हुई है। आग लगने के कारण का पता लगाया जा रहा है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned