भारत सरकार के शोध में काम करेंगी छत्तीसगढ़ की पूजा, सेंट्रल ड्रग इंस्टीट्यूट में चयनित होने वाली प्रदेश की पहली बेटी

पूजा का चयन उनके शानदार रिसर्च आइडिया के लिए हुआ है। संतोष रूंगटा कॉलेज ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंस एंड रिसर्च से एम. फार्मा की छात्रा पूजा अब कैंसर के नैनो फार्मूलेशन पर शोध करेंगी।

By: Dakshi Sahu

Updated: 30 Dec 2020, 01:19 PM IST

भिलाई. छत्तीसगढ़ की बेटियां हर फील्ड में कामयाबी के कीर्तिमान रच रही हैं। इस फेहरिश्त में अब भिलाई की पूजा यादव का नाम भी शामिल हो गया है। पूजा प्रदेश की पहली शोधार्थी हैं जिसे भारत सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने इंस्पायर फैलोशिप के लिए सलेक्ट किया है। पूजा का चयन उनके शानदार रिसर्च आइडिया के लिए हुआ है। संतोष रूंगटा कॉलेज ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंस एंड रिसर्च से एम. फार्मा की छात्रा पूजा अब कैंसर के नैनो फार्मूलेशन पर शोध करेंगी। उनके इस टॉपिक पर पीएचडी के लिए भारत सरकार पांच साल तक 40 हजार रुपए बतौर फैलोशिप राशि देगी। पूजा लखनऊ में स्थित भारत सरकार के सेंट्रल ड्रग रिसर्च इंस्टीट्यूट के साथ अपनी रिसर्च पूरी करेंगी।

सीएसवीटीयू में रैंक वन होल्डर
भारत सरकार देश के चुनिंदा शोधार्थियों को ही सेंट्रल टीम के साथ रिसर्च करने का मौका देती है। टफ कॉम्पीटिशन के बीच हजारों शोधार्थी इसके लिए आवेदन करते हैं। पूजा ने बताया कि उन्होंने डीएसटी इंस्पायर फैलोशिप के लिए 2019 में आवेदन किया था जिसका रिजल्ट अभी जारी किया गया। पूजा की इस उपलब्धि पर संस्था के चेयरमैन संतोष रूंगटा ने हर्ष व्यक्त किया। शोध की दिशा में मार्गदर्शन वाइस प्रिंसिपल डॉ. एजाजुद्दीन ने दिया।

Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned