सास का लालच पड़ गया बहू को भारी, फिल्मी स्टाइल में घुमंतु औरतों ने शहर की 11 महिलाओं से उतरवा लिए 5 लाख के गहने

अनपढ़ खानाबदोश दिखने वाली महिलाओं ने शहर की पढ़ी-लिखी 11 महिलाओं को ऐसे झांसे में लिया कि सभी हसंते हुए अपने गहने उतारकर दे दी। अपने पतियों के डर से मामले को दबाए रखा। (Bhilai police)

By: Dakshi Sahu

Published: 08 Dec 2019, 12:14 PM IST

भिलाई. अनपढ़ खानाबदोश दिखने वाली महिलाओं ने शहर की पढ़ी-लिखी 11 महिलाओं को ऐसे झांसे में लिया कि सभी हसंते हुए अपने गहने उतारकर (Thagi in Bhilai) दे दी। अपने पतियों के डर से मामले को दबाए रखा। बाद में महिलाएं थाना पहुंचकर शिकायत की। पुलिस ने घटना के पांच दिन बाद अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। जामुल टीआई लक्ष्मण कुमेटी ने बताया कि ठगी की शिकार महिलाएं लेबर कैंप, शिवपुरी, संघर्ष चौक जामुल की रहने वाली हैं। (Bhilai crime news)

महेश्वरी ने शिकायत की है कि 30 नवम्बर को दोपहर 12 बजे मोहल्ले में दो महिलाएं आईं। पुराने बर्तन बदल कर नए बर्तन और 100 रुपए नकद दिया। ऐसे ही महिलाओं को विश्वास जीता। एक महिला को टिफिन के बदले नया टिफिन दिया। कहा कि मोहल्ले की कई महिलाओं को दे चुकी हैं। महिलाएं उसके झांसे में आ गईं। पुरानी चांदी के बदले नया बर्तन का भी झांसा दिया। 3 दिसम्बर को फिर आई। महेश्वरी से कहा कि मराठी मंगलसूत्र की डिजाइन बहुत अच्छी है। इसकी कॉपी कर विदेश भेजेगी। इसके एवज में 5 हजार देंगी। गांव की अन्य महिलाएं दी हैं। उसके झांसे में आकर एक तोला वजनी मंगलसूत्र दे दिया।

महिलाओं से सोने-चांदी ज्वेलरी की डिजाइन का फोटो खींचकर विदेश भेजेंगी। जिसका डिजाइन पसंद आएगा उसे एक तोला पर 10 हजार नकद और पूरी ज्वेलरी दूसरे दिन वापस कर दी जाएंगी। इसे कुछ दूर पर साहब बैठे है। उन्हें देना होगा। कई महिलाओं को एक डिजाइन आभूषण दिखाने पर डबल आभूषण मिलने का झांसा दिया। साथ में 30 हजार नकद का भी देने का झांसा दिया। इस तरह महिलाएं झांसे में आकर करीब 5 लाख रुपए की ज्वेलरी ठगी की शिकार हो गई।

बहू की ज्वेलरी भी दे दी
लीला चौक निवासी निर्मला अग्रवाल ने बताया कि महिला ने सोने की ज्वेलरी की डिजाइन दिखाने पर 40 हजार रुपए का ऑफर दिया। दूसरे दिन ज्वेलरी समेत 40 हजार नकद देगी। उसके झांसा में आ गई। बहू की भी ज्वेलरी मंगलसूत्र और हार को दिला दिया। इस तरह 1 लाख 50 हजार ठगा गई। महेश्वरी ने बताया कि विदेश में डिजाइन की फोटो भेजने का झांसा दिया। यह भी कहा कि उसके एरिया में इस तरह की डिजाइन नहीं मिलती है।

कढ़ाई और 100 रुपए देकर जीता भरोसा

0 तावलेश्वरी देवांगन- मंगलसूत्र, मराठी पत्ती, झुमका, पायल
0 संगीता देवागंन- नके कान के टाप्स, मंगलसूत्र , लॉकेट, 6 सोने का दाना, एक फुल्ली, 2 बिछिया
0 शोभा चौहान- सोने के कान का बाली, 3 जोडी पैर पट्टी
0 राजकुंवर निषाद - 3 पत्ती सोना
0 कुमारी तांडी- एक जोडी पायल, एक सोने का टाप्स, 2 चांदी की चूडी
0 विद्या चौहान- 2 चांदी की चूड़ी, एक पैर पटटी, 1 कुकर, कढाई, स्टील का कटोरा
0 सीमा नायक- पायल, सोने का लाकेट, रिंग
0 संगीता शर्मा- मंगल सूत्र, रिंग, पायल
0 डेरहीन चंद्राकर- कांसा का थाली, बटकी, माली
0 अनिता राय- सोने का कान रिंग, चांदी पटटी, सोने की नाथनी, फुल्ली
0 भुवनेश्वरी साहू -एक तोला मंगलसूत्र।

12 वीं पास हूं, फिर भी मती मारी गई थी
ठगी की शिकार हुई महेश्वरी सिन्हा ने बताया कि महिलाओं ने उन्हें विदेश में डिजाइन की फोटो भेजने का झांसा दिया। यह भी कहा कि वहां इस तरह की डिजाइन नहीं मिलती है। एक तोला वजनी ज्वेलरी की डिजाइन पसंद आई तो एवज में 10 हजार मिलेगा। ज्वेलरी के साथ में एक दिन बाद रुपए देकर वापस कर देगी। वह ले गई 2 बजे तक इंतजार करती रही पर महिलाएं नहीं आई।

Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned