चार साल में उजड़ गया 70 लाख का जयंती उद्यान

Bhuwan Sahu

Publish: Jul, 13 2018 06:27:17 PM (IST)

Bhilai, Chhattisgarh, India
चार साल में उजड़ गया 70 लाख का जयंती उद्यान

लाखों रुपए खर्च करके बैकुंठधाम वार्ड में बनाया गया जयंती उद्यान चार साल में ही उजड़ गया है। रख-रखाव के अभाव में क्यारियों में खरपतावर उग आई है।

भिलाई . लाखों रुपए खर्च करके बैकुंठधाम वार्ड में बनाया गया जयंती उद्यान चार साल में ही उजड़ गया है। रख-रखाव के अभाव में क्यारियों में खरपतावर उग आई है। आकर्षण के लिए बनाए गए कृत्रिम झरनों की प्रतिमाओं को तोड़ दिया गया है। पोस्ट लैंप खराब हो चुके हैं। दीवारें दरक गई हैं। रौशनी तक का इंतजाम नही हैं इसलिए दिन ढलने के बाद महिलाएं और बच्चे उद्यान में जाने से कतराते हैं। गर्मी में पौधों को सूखने से तो बचा लिए, लेकिन समाजकंटकों से बच्चों के खेलकूद के उपकरण जैसे झूले, फिसल पट्टी और कुर्सियों को नहीं बचा पाए।
निगम ने उद्यान के उपकरणों की देखभाल और उपकरणों के रखरखाव के लिए सुषमा कुशवाहा को ९ लाख रुपए में ठेका दिया। ठेका लेने के बाद उन्होंने उद्यान में चौकीदार और माली सहित कुल चार मजदूर रखे। कुछ दिनों तक काम लिया। वेतन नहीं दिया तो मजदूरों ने काम छोड़ दिया। सुरक्षा के अभाव में असामाजिक तत्वों ने चिल्ड्रन प्ले ग्राउंड एरिया के उपकरणों को तोड़ दिया है। नृतक, चिडिय़ा, हंस और बगुला की प्रतिमाएं क्षतिग्रस्त हो गई हैं।

मंत्री खुद करने आए थे लोकार्पण

२०१४ में ७० लाख रुपए खर्च के बाद जयंती उद्यान को तैयार हुआ था। इस खूबसूरत उद्यान का लोकार्पण करने खुद राजस्व मंत्री पांडेय पहुंचे थे। कैम्प क्षेत्र के अलावा जवाहर नगर, हाउसिंग बोर्ड, घासीदास नगर, शारदापारा, संतोषी पारा सहित अन्य वार्डों के लोग भी उद्यान में घूमने आते थे। यहां सुबह व शाम को भीड़ लगती थी। २०१७ में निगम ने रखरखाव और मेंटनेंस की ओर ध्यान नहीं दिया। तब पार्षद ने मोहल्ले के लोगों के साथ २-३ महीने तक पौधों को पानी दिया। गर्मी में पौधों को सूखने से तो बचा लिए, लेकिन समाजकंटकों से बच्चों के खेलकूद के उपकरण जैसे झूले, फिसल पट्टी और कुर्सियों को नहीं बचा पाए।

कई बार शिकायत

पार्षद रिंकू राजेश प्रसाद ने कहा छह महीने पहले निगम प्रशासन ने ठेका में दिया है। ठेकेदार ने कोई काम नहीं किया। लिखित में शिकायत की। इसके बावजूद उद्यान विभाग ने गंभीरता से नहीं लिया।

ठेकेदार को नोटिस

ईई,उद्यान प्रशांत शुक्ला ने बताया कि ठेकेदार को नोटिस जारी किया गया है। मेंटेनेंस और उद्यान में काम करने वाले मजदूरों के नाम से जवाब मांगा है। जवाब मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Ad Block is Banned