सरकार के गले में अंडे का फंदा, बच्चों को खाने दिया तो प्रदेशभर में मचा बवाल

सरकार के गले में अंडे का फंदा, बच्चों को खाने दिया तो प्रदेशभर में मचा बवाल

Satyanarayan Shukla | Updated: 13 Jul 2019, 11:45:33 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ के स्कूलों व आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों को मध्याह्न भोजन में अंडा परोसने के सरकारी फरमान के बाद पूरे प्रदेश में बवाल मच गया है। सरकारी फरमान के खिलाफ प्रदेश के पूरे जिले में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है।

भिलाई@Patrika. छत्तीसगढ़ के स्कूलों व आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों को मध्याह्न भोजन में अंडा परोसने के सरकारी फरमान के बाद पूरे प्रदेश में बवाल मच गया है। सरकारी फरमान के खिलाफ प्रदेश के पूरे जिले में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। सरकारी फरमान के बाद दुर्ग संभाग के दुर्ग, कवर्धा और बालोद जिले के कबीर पंथ के अनुयायी विरोध प्रदर्शन कर चुके हैं। इसी कड़ी में शनिवार को कबीर पंथ के सबसे बड़े केंद्र दामाखेड़ा के गद्दीदार और पंथश्री प्रकाशमुनि नाम साहेब के गृह जिले में बेमेतरा में भी विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन में शामिल लोगों ने कहा है कि सरकार ने मध्यान्ह भोजन के मीनू से अंडा को नहीं हटाया तो प्रदेश सहित पूरे देश में विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।

शाकाहारी बच्चों को छत्तीसगढ़ सरकार मांसाहारी बनाने की योजना बना रही

बेमेतरा जिले के प्रदर्शनकारियों ने कहा है कि अंडा देने का फैसला वापस नहीं लिया गया तो 17 जुलाई को रायपुर-बिलासपुर मार्ग पर दामाखेड़ा में पंथश्री प्रकाशमुनि नाम साहेब के नेतृत्व में धरना- प्रदर्शन किया जाएगा। कंबीरपंथियों ने कहा कि हम सब कबीर पंथी शाकाहारी हैं और शाकाहारी बच्चों को छत्तीसगढ़ सरकार मांसाहारी बनाने की योजना बना रही है। लगता है सरकार की योजना बच्चों को शराब पिलाना और मांस खिलाना है। कबीर पंथियों के अल्टीमेटम के बाद स्कूलों में अंडा बांटने का मसला शासन-प्रशासन के लिए गले की हड्डी बनता नजर आ रहा है।

बेमेतरा@Patrika. राज्य सरकार के उक्त फरमान के विरोध में जिले के कबीरपंथ समाज के लोगों ने शहर में सांकेतिक विरोध प्रदर्शन करते हुए कबीर आश्रम से कलक्टोरेट तक पदयात्रा कर रैली निकाली। अंत में मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन अपर कलक्टर को सौंपा गया है। रैली में जिले में बेमेतरा सहित विभिन्न गांवों पिकरी, कोबिया, सिंघौरी, कंतेली, हथमुड़ी, डुडा, निनवा, बैजी, लोलेसरा, गांगपुर, बहेरा, केंवाछी, सिंगपुर, करचुवा, जिया सहित कई गांव के हजारों कबीरपंथी शामिल हुए। जिला मुख्यालय में निकाली गई रैली में श्री सद्गुरु कबीर पंथी समाज बेरला के लोगों ने भी हिस्सा लिया।

हाथों में तख्तियां लेकर जमकर लगाए नारे
पूर्व नियोजित कार्यक्रम के तहत शनिवार को कबीर आश्रम में जिले के कबीर पंथी एकत्रित हुए। इसके बाद सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए हाथों में तख्ती लेकर स्कूलों में अंडा परोसे जाने का विरोध करते हुए रैली निकाली। रैली बस स्टैंड, पीयर्स चौक, पुराना बस स्टैंड होते हुए कलक्टोरेट पहुंची। जहां उन्होंने अपर कलक्टर डीआर डाहीरे को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। रैली में हजारों की संख्या में कबीरपंथ समाज के बुजुर्ग, युवा व महिलाएं शामिल हुए।

विरोध रैली में ये हुए शामिल
ज्ञापन सौंपने वालों में विजेन्द्र वर्मा, धर्मेंन्द्र गुरु गोसाई, गुरु गोसाई पप्पू दास, मनोज वर्मा, खेलन वर्मा, रणजीत वर्मा, तरुण वर्मा, सावित्री वर्मा, रामसहाय वर्मा, शिवकुमारी वर्मा, किरण सिंह वर्मा, धनसिंह वर्मा, चंद्रशेखर वर्मा, घान बाई वर्मा, धरम वर्मा, भगवानी साहू बेरला, टहल राम साहू, साजा से प्रमोद वर्मा, हेमन दास बैरागी आदि शामिल थे। रैली में बेरला क्षेत्र के तखतराम साहू अध्यक्ष, गिरवर दास मानिकपुरी सचिव, जेठूराम साहू कोषाध्यक्ष, सुशील कुमार साहू व्यवस्थापक, सीताराम, भकला सेवक, जागेश्वर, नंदकुमार, इतवारी, भगवानी, तीजू राम आदि मौजूद रहे।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned