Breaking : हत्या के बाद शव का टुकड़े कर जलाने वाला शादीशुदा प्रेमी आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे

महिला की हत्या व बेरहमी से शव के टुकड़े करने वाला हत्यारा पंडरिया के दुर्गाबंदपारा निवासी विनोद पिता दिनेश (37) निकला।@Patrika. यह तिवारी बस ट्रेव्लस का कंडक्टर था। वहीं मृतिका महिला की पहचान ग्राम भगतपुर निवासी जमोत्री पति स्व.धन सिंह चंद्रवंशी(35) के रूप में हुई।

By: Satya Narayan Shukla

Updated: 03 Mar 2019, 06:15 PM IST

कवर्धा@Patrika. जिले में संभवत: पहली बार इस तरह की हैवानियत देखी गई। पहले तो विधवा महिला की हत्या की। फिर शव के कई टुकड़े कर उसे जला भी दिया। लेकिन कहते हैं न कि अपराध छुपता नहीं, कभी न कभी बाहर आता ही है। यहां पर भी ऐसा ही हुआ।

ग्राम रहमानकांपा में 7 फरवरी को अज्ञात महिला का दो टुकड़ों में शव मिला था
पंडरिया थाना अंतर्गत ग्राम रहमानकांपा में 7 फरवरी को अज्ञात महिला का दो टुकड़ों में शव मिला था। वहीं सिर, पैर, हाथ गायब थे। बिना सिर केवल धड़ के आधार पर महिला की पहचान करना और इसके आरोपी को ढूंढना काफी मुश्किल रहा। लेकिन पंडरिया पुलिस व साइबर टीम ने इस गुत्थी को एक माह के भीतर सुलझा लिया। महिला की हत्या व बेरहमी से शव के टुकड़े करने वाला हत्यारा पंडरिया के दुर्गाबंदपारा निवासी विनोद पिता दिनेश (37) निकला।@Patrika. यह तिवारी बस ट्रेव्लस का कंडक्टर था। वहीं मृतिका महिला की पहचान ग्राम भगतपुर निवासी जमोत्री पति स्व.धन सिंह चंद्रवंशी(35) के रूप में हुई। हत्यारा व मृतिका के बीच अवैध संबंध थे और यही मौत का कारण बना।

बेदर्दी से महिला की हत्या की

प्रेसवार्ता में पुलिस अधीक्षक डॉ. लाल उमेंद सिंह ने बताया कि आरोपी ने आवेश में आकर बेदर्दी से महिला की हत्या की। फिर आरी से उसे कई टुकड़े किए, ताकि आसानी से उसे बाइक में ले जाया जा सके। साक्ष्य छुपाने के लिए कई स्थानों पर शव के टुकड़े को जलाया। @Patrika.आरोपी के निशानदेही पर कई अंग बरामद किए, लेकिन पैर व सिर अब भी नहीं मिल सके हैं। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को धारा 302, 201 भादवि के तहत गिरफ्तार किया व रिमाण्ड लेकर पूछताछ कर रही है।

 

kawardha patrika

यहां से मिला सुराग
महिला के संबंध में जानकारी एकत्र करने के लिए शव से बरामद पेटीकोट व उसमें लगा नाड़ा ही मुख्य सुराग था। गुमशुदा महिला की जानकारी एकत्रित करते हुए ग्राम भगतपुर थाना पण्डरिया निवासी रानू चंद्रवंशी द्वारा उसके रिश्तेदार जमोत्री बाई होने की आशंका व्यक्त किया गया।@Patrika. उक्त महिला के सबंध में उसके परिवार वाले व ग्रामीणों से पूछताछ करने पर गुमशुदा जमोत्री बाई का प्रेम संबंध तिवारी बस ट्रेव्लस में कंडेक्टर करने वाले विनोद पाण्डेय के साथ होने की जानकारी मिली।

अपना अपराध कबूल किया

पूछताछ के लिए कंडेक्टर विनोद का पता किया गया। @Patrika.विनोद घटना के दूसरे दिन से ही एक अन्य महिला को लेकर कहीं फरार हो चुका था। संदेही विनोद पर शक गहरा होने से लगातार पता तलाश की जा रही थी। पतासाजी कर उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की, उसने अपना अपराध कबूल किया।

Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned