लॉकडाउन में अवैध मुरुम खनन, जब किसी ने नहीं सुनी तो युवाओं ने सोशल मीडिया में CM को वीडियो और फोटो किया पोस्ट

Illegal murum mining in Durg: कोरोना वायरस लॉकडाउन दुर्ग संभाग में अवैध खनन करने वालों के लिए वरदान साबित हो रहा है। थनौद में अवैध खनन राजनीतिक संरक्षण में चल रहा है।

By: Dakshi Sahu

Published: 03 May 2021, 06:06 PM IST

दुर्ग. कोरोना वायरस लॉकडाउन (coronavirus lockdown in Durg) दुर्ग संभाग में अवैध खनन करने वालों के लिए वरदान साबित हो रहा है। थनौद में अवैध खनन राजनीतिक संरक्षण में चल रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि इसी वजह से खनिज विभाग कार्रवाई नहीं कर रहा है। लॉकडाउन के कारण अवैध खनन के खिलाफ धरना आंदोलन संभव नहीं है। ऐसे में थनौद के ग्रामीणों ने विरोध का नया तरीका निकाला है। अवैध खनन के खिलाफ सोशल मीडिया पर मुहिम शुरू की है। सोशल मीडिया पर अवैध खनन व परिवहन में लगे वाहनों के फोटो व वीडियो शेयर कर राजनेताओं व जिम्मेदार अधिकारियों की भूमिका पर सवाल खड़ा किया जा रहा है।

लॉकडाउन में अवैध मुरुम खनन, जब किसी ने नहीं सुनी तो युवाओं ने सोशल मीडिया के जरिए CM को वीडियो और फोटो किया पोस्ट

सोशल मीडिया में चला रहे मुहिम
दुर्ग जिले के थनौद में महीनेभर से अवैध खनन व परिवहन किया जा रहा है। खनिज विभाग ने तालाब के पार को भंडारित मुरुम बताकर परिवहन की अनुमति दी है। जिसका मियाद भी 15 अप्रैल को खत्म हो गया है। वाबजूद बैक होलोडर को तालाब के भीतर उतार कर बेतहाशा खनन किया जा रहा है। ग्रामीण अधिकारियों और नेताओं के इस करतूत को अब दुनिया के सामने लाना चाहते हैं। इसलिए अवैध खनन की फोटो और वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में गांव को बचाने की मुहिम छेड़ दी है। अवैध खनन के खिलाफ ये मुहिम अब सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रही है।

निशाने पर मंत्री और विधायक
सोशल मीडिया पर अवैध मुरुम खनन के खिलाफ अभियान चला रहे गांव के युवाओं के निशाने पर एक मंत्री व एक दूसरे जिले का विधायक हैं। दोनों की भूमिका पर ग्रामीण सवाल खड़ा कर रहें हैं। फोटो और वीडियो सीएम भूपेश बघेल से लेकर तमाम मंत्री व अधिकारियों को टैग किए जा रहे हैं। वहीं सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी आवाज बुलंद करके युवाओं ने इस अवैध काम का भंडाफोड़ कर दिया है।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned