तीन साल के चश्मदीद मासूम ने खूनी मंजर की घटना बताई, तो पुलिस भी रह गई दंग

तीन साल के चश्मदीद मासूम ने खूनी मंजर की घटना बताई, तो पुलिस भी रह गई दंग

Satya Narayan Shukla | Publish: Sep, 09 2018 01:14:53 PM (IST) Bhilai, Chhattisgarh, India

भिलाई तीन के पास ग्राम घुघवा में शनिवार को हत्या की वारदात से पूरा गांव दहल गया। खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया।

भिलाई. भिलाई तीन के पास ग्राम घुघवा में शनिवार को हत्या की वारदात से पूरा गांव दहल गया। निर्दयी पति ने आपसी विवाद के चलते अपनी पत्नी पर हसिया से वार कर पहले अधमारा कर दिया। फिर भी जी नहीं भरा तो उसका गला दबा दिया। फिर साक्ष्य छुपाने के लिए उसके शरीर पर मिट्टी तेल उड़ेलकर जला दिया। खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया। घटना स्थल से हसिया, केरोसिन डिब्बा और माचिस जब्त कर लिया। पड़ोसी खेमलाल साहू की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ धारा ३०२, २०१ के तहत जुर्म दर्ज किया है।

घटना ग्राम घुघुवा की
घटना सुबह करीब ७.३० बजे ग्राम घुघुवा की है। भिलाई थाना पुलिस ने बताया कि मृतिका वेदमती साहू (२८) से आरोपी पति सहदेव साहू (३२) ने पैसे की मांग की। वेदमती ने पैसे देने से मना कर दिया। इसी बात को लेकर दोनों में विवाद हो गया। इसके बाद वह खाना बनाने लगी। इधर सहदेव को उसकी बात नागवार लगी और अपना आपा खो बैठा। हसिया उठाया और पीछे से वेदमती के सिर पर दो बार वार कर दिया। वेदमती वहीं गिर गई। फिर उसकी गला दबा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।
सहदेव ने अपनी पत्नी की हत्या करने के बाद उसे आत्महत्या बताने का प्रयास किया। साक्ष्य छुपाने के लिए उसके शरीर पर मिट्टी तेल उड़ेलकर कर माचिस मार दिया। धुआं उठते देख आसपास के लोग पहुंचे तब तक वेदमती ७० प्रतिशत जल चुकी थी। पड़ोसियों ने आग बुझाई।

आंखों के सामने इस खूनी मंजर को देखा

तीन साल की बेटी ने अपने आंखों के सामने इस खूनी मंजर को देखा। उसने पुलिस को बताया कि पापा ने मम्मी को मारा। पुलिस को उसी ने हसिया भी दिखाया। पुलिस के मुताबिक हसिया खून से सनी हुई थी। पुलिस ने बेटी को उसके नाना और नानी को सौंप दिया।

10 दिन पहले ही मायके से ससुराल आई थी
पुलिस ने बताया कि पति और पत्नी में अनबन थी। आए दिन छोटी-छोटी बात को लेकर दोनों में विवाद होते रहता था। इसी के चलते वेदमती अपनी तीन साल की बच्ची को लेकर नंदिनी के पास ग्राम बागडुमर अपने मायके चली गई थी। सहदेव की मिन्नतें करने के बाद वह 10 दिन पहले ही वापस ससुराल आई थी।

Ad Block is Banned