मेटाडोर के भीतर झांकर देखा तो पुलिस के भी होश उड़ गए, पढि़ए पूरी खबर

जेवरा पुलिस ने गुरुवार को घेराबंदी कर 6.50 लाख रुपए के गुटखे से भरा मेटाडोर जब्त किया है। मेटाडोर में कुल 16 बोरा गुटखा रखा हुआ था।

By: Satya Narayan Shukla

Published: 04 Jan 2018, 10:18 PM IST

दुर्ग . जेवरा पुलिस ने गुरुवार को घेराबंदी कर 6.50 लाख रुपए के गुटखे से भरा मेटाडोर जब्त किया है। मेटाडोर में कुल 16 बोरा गुटखा रखा हुआ था। हालाकि गुटखा कहा से और कहा पहुंचाया जा रहा था इसका खुलासा नहीं हो पाया है। मामले में पुलिस ने वाहन चालक के खिलाफ प्रतिबंधित गुटखा का परिवहन करने के मामले में अपराध दर्ज किया है।

जर्दायुक्त पान मसाला पर प्रतिबंध
जर्दायुक्त पान मसाला पर शासन ने प्रतिबंध लगा रखा है। इसके बाद भी शहर के पान दुकान से लेकर किराना दुकानों में जर्दायुक्त गुटखा आसानी से उपलब्ध हो जाता है। जेवरा पुलिस को सूचना मिली थी कि पान राज और पान पसंद गुटखा से भरा मेटाडोर धमधा की ओर जा रहा है। इसी सूचना के आधार पर जेवरा चौकी पुलिस ने बेरियर लगाकर वाहनों की चांच शुरू की थी। पुलिस को वाहन चेकिंग करते देख वाहन चालक शहीद अहमद (४५ वर्ष) घबराने लगा। चेहरे को देख पुलिस भाप ली और बिना विलंब किए मेटाडोर को अपने कब्जे में लेकर तलाशी ली और गुटखा को बरामद किया।

फिल्मी अंदाज में तैनात किया गया था चालकों को
इस मामले में खास बात यह है कि गुटखा का अवैध परिवहन करने किसी फिल्म कहानी की तरह चालकों को अलग अलग स्थान में तैनात किया गया था। पुलिस के गिरफ्त में आए चालक शहीद अहमद ने पुलिस को बताया कि उसे नहीं मालूम कि गुटखा कहा पहुंचाना है। उसे केवल मेटाडोर को बाफना टोल प्लाजा के निकट से धमधा तक पहुंचाने कहा गया था। धमधा में एक अन्य ड्रायवर उसका इंतजार कर रहा है। उसका नाम क्या है यह भी उसे नहीं मालूम। बस स्टैंड के निकट गाड़ी को खड़ा करते ही ड्रायवर उससे संपर्क करने वाला था।

भिलाई के साजिद का है गुटखा
मेटाडोर चालक का कहना था कि वह गुटखा किसका है यह नहीं जानता, उसे केवल इतना बताया गया है कि गुटखा भिलाई के साजिद के इशारे पर ले जाया जा रहा है। चालक का कहना है कि उसे यह भी नहीं मालूम कि साजिद कौन है।

जांच के लिए भेजा जाएगा गुटखा
पुलिस ने गुटखा को जब्त करने के बाद खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग को सूचना दे दी है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में गुटखा का पहले जांच कराया जाएगा। रिपोर्ट आने के बाद खाद्य एवं औषधि विभाग अलग से कार्यवाही करेगी।

Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned