काइपो...छे...कोरोनाकाल में आसमान में लड़े पतंगों के पेंच, पतंगोत्सव में मिनी इंडिया ने चखा गुजराती व्यंजनों का जमकर स्वाद

सकल गुजराती समाज के पतंगोत्सव में गुजराती समाज का साथ देने छत्तीसगढ़ के लोग पहुंचे। फूड फेस्टिवल में भी गुजराती व्यंजनों का स्वाद भी चखा।

By: Dakshi Sahu

Updated: 11 Jan 2021, 12:01 PM IST

भिलाई. बीएसपी सीनियर सेकंडरी स्कूल सेक्टर 7 के मैदान में उड़ती रंगबिरंगी पतंगें और पेंच लड़ाने के बाद कटती पतंग को देख खुशी से उछलना.. कुछ ऐसा ही नजारा दिखा। सकल गुजराती समाज के पतंगोत्सव में गुजराती समाज का साथ देने छत्तीसगढ़ के लोग पहुंचे। फूड फेस्टिवल में भी गुजराती व्यंजनों का स्वाद भी चखा। इस पतंग उत्सव में सांसद विजय बघेल, दुर्ग विधायक अरूण वोरा, दुर्ग महापौर धीरज बाकलीवाल, पूर्व विधायक देवजी भाई पटेल, प्रदेश कांग्रेस सचिव धर्मेन्द्र यादव, दुर्ग निगम सभापति राजेश यादव, साहित्यकार मुकुंद कौशल एवं सकल गुजराती समाज के प्रदेशाध्यक्ष प्रीतेश गांधी विशेष रूप से मौजूद थे।

इस मौके पर सकल गुजराती समाज के अध्यक्ष रजनी भाई दवे ने कहा कि छत्तीसगढ़ में गुजराती समाज के लोग ऐसे रम गए हैं जैसे दूध में शक्कर। गुजराती संस्कृति गरबा को छत्तीसगढ़ ने अपनाया और आज हर चौक चौराहों पर नवरात्रि गरबा उत्सव की धूम होती है। ठीक उसी तरह मकर संक्रांति पर गुजरात में पतंग उत्सव मनाया जाता है और उन्हें यकीन है कि इस परंपरा को भी छत्तीसगढ़ के लोग अपनाएंगे।

काइपो...छे...कोरोनाकाल में आसमान में लड़े पतंगों के पेंच, पतंगोत्सव में मिनी इंडिया ने चखा गुजराती व्यंजनों का जमकर स्वाद

गीत-संगीत के साथ नृत्य भी
कार्यक्रम में छोटे छोटे बच्चों ने गीत-संगीत एवं नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति। व्यंजनों के यहां 22 स्टाल लगाए गए थे जिसमें गुजरात एंव छत्तीसगढ़ के व्यंजनों, कपड़ों एवं अन्य सामानों का स्टाल लगाया गया। दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक इस कार्यक्रम का लोगों ने भरपूर लुत्फ उठाया। आयोजन समिति के पदाधिकारियों ने उत्कृष्ट स्टाल संचालकों को पुरस्कृत भी किया। गिरीश भाई सांवरिया ने सभी का आभार व्यक्त किया।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned