दहेज में कार नहीं मिली तो हैवान बन गए लालची ससुराली, लॉकडाउन में नवविवाहिता बहू को घर से बाहर निकाला

दहेज के लिए पति की प्रताडऩा से परेशान विवाहिता की शिकायत पर पुलिस ने जांच के बाद आरोपी पति के खिलाफ अपराध दर्ज किया है।

By: Dakshi Sahu

Published: 10 Jan 2021, 09:49 AM IST

भिलाई. दहेज के लिए पति की प्रताडऩा से परेशान विवाहिता की शिकायत पर पुलिस ने जांच के बाद आरोपी पति के खिलाफ अपराध दर्ज किया है। पीडि़ता के पति हनीफ खान, ससुर हबीब खान, सास जैबुननिशा और नंनद यास्मीन खान के खिलाफ धारा 498 ए के तहत जुर्म दर्ज किया है। महिला थाना टीआई सी तिर्की ने बताया कि खुर्सीपार जोन -1 सेक्टर 11 निवासी निशा (26 वर्ष) की शादी 15 अक्टूबर 2018 को राजस्थान उदयपुर के हनीफ खान पिता हबीब खान (29 वर्ष) के साथ हुई थी।

लॉकडाउन में निकाल दिया घर से
उपहार स्वरुप निशा के पिता ने नकदी समेत 9 लाख रुपए सोने-चांदी के जेवरात दिए। शादी को 2 माह भी नहीं हुए और ससुराल में उसे उलाहना देना शुरु कर दिया कि दूसरी जगह शादी किया होता तो कार मिलती। कार के लिए 10 लाख रुपए की मांग करने लगे। जब निशा ने मायके से मांगने से मना कर दिया तो उसे मानसिक और शारीरिक तौर पर परेशान किया जाने लगा। एक वर्ष तक वह ससुरालियों की प्रताडऩा सहती रही। 18 मई 2020 को पति और सास ने सारी हदें पार करते हुए उसके साथ मारपीट की। लॉकडाउन के बीच निशा को घर से निकाल दिया। दो माह तक लॉकडाउन में बड़ी सास के घर में रही, लेकिन ससुराल वालों ने कोई खबर नहीं ली।

पति कार की करने लगा मांग
पुलिस ने बताया कि शादी के दौरान निशा के पिता ने उपहार स्वरूप 3 लाख नकद दिया। सोने के आभूषण, एक गले का नेकलेस, एक जोड़ी कंगन, सोने की मांग टीका और 2 जोड़ी चांदी की पायल, चांदी की हाथ छल्ला और पति को सोने की अंगूठी भेट किया। शादी में 7 लाख रुपए खर्च अलग से किया। हनीफ के घर वालों ने बताया था कि उसे प्राइवेट कंपनी में 35 हजार रुपए वेतन मिलता है। हमें बहू अच्छी चाहिए, पर वे कार की मांग करने लगे।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned