CG के इस हाईप्रोफाइल लोकसभा सीट में पहली बार कंट्रोल और बैलेट यूनिट लग रही दोगुनी, जानिए क्यों, Video

CG के इस हाईप्रोफाइल लोकसभा सीट में पहली बार कंट्रोल और बैलेट यूनिट लग रही दोगुनी, जानिए क्यों, Video

Dakshi Sahu | Publish: Apr, 22 2019 12:30:55 PM (IST) | Updated: Apr, 22 2019 12:30:57 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

जिले में 1443 मूल, 41 आदर्श, 9 संगवारी और 6 दिव्यांग मतदान केंद्र बनाए गए हैं। चुनाव में इस बार 21 प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे हैं। इसलिए दो बैलेट यूनिट लगाई जाएगी।

दुर्ग. लोकसभा चुनाव में दुर्ग सीट के लिए जिले के 1443 मतदान केंद्रों के निर्वाचन दलों का सोमवार सुबह से रवाना होने का सिलसिला चालू हो गया है। मतदान सामग्री वितरण के लिए बनाए गए 3 केंद्र मानस भवन, साइंस कॉलेज और पॉलीटेक्निक कॉलेज में सुबह से मतदान कर्मियों की लंबी-लंबी कतार लग गई है। यहां मतदान दलों के 5,768 कर्मचारियों को मतदान सामग्री सौंपकर 262 वाहनों से केंद्रों के लिए रवानगी शुरू हो गई है। मतदान दलों में शामिल अधिकारियों व कर्मचारियों को सुबह 7 बजे से पहले उपस्थित होने कहा गया था। 

584 केंद्र संवेदनशील
584 को संवेदनशील माना गया है। इनमें सर्वाधिक 128 केंद्र पाटन में हैं। दुर्ग ग्रामीण में 77, शहर में 68 , भिलाई नगर में 56, वैशालीनगर में 102, अहिवारा में 96, साजा में 48 और बेमेतरा में 9 मतदान केंद्र शामिल हैं। इन केंद्रों में सुरक्षा के लिए विशेष सुरक्षा बल तैनात किए जाएंगे।

499 कंट्रोल यूनिट और बैलेट यूनिट लगेंगी दोगुनी
जिले में 1443 मूल, 41 आदर्श, 9 संगवारी और 6 दिव्यांग मतदान केंद्र बनाए गए हैं। चुनाव में इस बार 21 प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे हैं। इसलिए दो बैलेट यूनिट लगाई जाएगी। इस हिसाब से इन केंद्रों में 1499 कंट्रोल यूनिट और 2998 बैलेट यूनिट की जरूरत होगी। 10त्न इवीएम रिजर्व है।

580 कर्मचारी रिजर्व कोटे में, 382 माइक्रो ऑब्जर्वर
जिले के 1443 मतदान केंद्रों में 6348 अधिकारी व कर्मचारी मतदान कराएंगे। इनमें पीठासीन अधिकारी व पी-वन, पी-टू और पी-थ्री को मिलाकर 5768 शामिल हैं। दस फीसदी के हिसाब से 580 कर्मचारियों को रिजर्व कोटे में रखा गया है। इसके अवाला 382 माइक्रो आब्जर्वर अलग हैं।

3757 जवानों की सुरक्षा
चुनाव में सशस्त्र बल और पुलिस के 3557 जवान सुरक्षा में तैनात रहेंगे। इनमें पैरामिलिट्री फोर्स के 2100 और राज्य सुरक्षा बल के 1457 जवान शामिल हैं। संवेदनशील मतदान केंद्रों में एक अफसर के साथ 6 सुरक्षा जवान तैनात किए जाएंगे। विशेष स्थिति के लिए रिजर्व में भी अर्धसैनिक बल तैनात रहेंगे।

262 रूट से पहुंचेगा दल
मतदान केंद्रों तक सामग्री व दल पहुंचाने के लिए 262 रूट तय किए गए हैं। इन मार्गों से मतदान दल को पहुंचाने व वापस लाने का काम किया जाएगा। इसके लिए रूट का वेरीफिकेशन कर लिया गया है। पाटन में 43, दुर्ग ग्रामीण में 39, दुर्ग शहर में 34, भिलाई नगर में 31, वैशाली नगर में 42, अहिवार में 42 रूट बनाए गए हैं। शेष 31 रूट साजा व बेमेतरा के लिए हैं।

बेमतरा जिले में 1443 मतदान केंद्र
साजा व बेमेतरा में 1443 मतदान केंद्र बनाए हैं। 436 मूल व 7 सहायक केंद्र हैं। जहां मतदाता 1500 से ज्यादा है, वहां सहा.केंद्र बनाया है। पाटन में 241, दुर्ग ग्रामीण में 221, दुर्ग शहर में 208, भिलाई नगर में 163, वैशाली नगर में 237 मूल, अहिवारा में 252, साजा में 99 और बेमेतरा में 22 मतदान केंद्र हैं। उप जिला निर्वाचन अधिकारी बीबी पंचभाई ने बताया कि मतदान सामग्री वितरण व दलों को केंद्रों तक पहुंचाने की पूरी तैयारी पहले की कर ली गई थी। आज सुबह 7 बजे सामग्री वितरण शुरू हुआ। इसके लिए कर्मियों को समय पर उपस्थित होने के निर्देश दिए गए थे। मतदान दलों से सुरक्षित केंद्रों में पहुंचाना पहली प्राथमिकता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned