CM ने निगम के कर्मचारी लौटाए तो कमिश्नर ने मेयर के घर से कर्मचारियों को बुला लिया

CM ने निगम के कर्मचारी लौटाए तो कमिश्नर ने मेयर के घर से कर्मचारियों को बुला लिया
इसे कहते हैं नहले पे दहला : कमिश्नर ने मेयर के घर से कर्मचारी वापस मांगा तो मेयर ने सीएम हाउस से दो निगम कर्मचारियों को वापस बुला लिया

Satyanarayan Shukla | Updated: 23 Aug 2019, 11:49:58 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

प्लेसमेंट के कर्मचारियों को लेकर चरोदा निगम की महापौर चंद्रकांता मांडले और आयुक्त कीर्तिमान सिंह राठौड़ के बीच चल रही खींचतान की असली वजह कुछ और ही है। मुख्यमंत्री निवास में काम करने वाले निगम के दो कर्मियों का तत्काल वापस भेज दिया गया। इसके कुछ दिन बाद आयुक्त ने महापौर निवास से भी कर्मियों को वापस बुलवा लिया।

भिलाई@Patrika. प्लेसमेंट के कर्मचारियों को लेकर चरोदा निगम की महापौर चंद्रकांता मांडले (Bhilai 3 Mayor) और आयुक्त कीर्तिमान सिंह राठौड़ के बीच चल रही खींचतान की असली वजह कुछ और ही है। दरअसल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) से नगर निगम में 90 नए पदों के सेटअप की मांग करने गईं महापौर ने उनके इनकार करने पर कह दिया था कि निगम में कर्मियों की कमी है और प्लेसमेंट के कर्मी आपके और आपके मंत्रियों के बंगले में काम कर रहे हैं। (Bhilai patrika) इसके बाद मुख्यमंत्री निवास (Bhilai-3 CM House) में काम करने वाले निगम के दो कर्मियों का तत्काल वापस भेज दिया गया। (CG Politics) इसके कुछ दिन बाद आयुक्त ने महापौर निवास से भी कर्मियों को वापस बुलवा लिया।

90 नए पदों के सेटअप को शासन से मंजूरी दिलाने का आग्रह किया
महापौर मांडले 12 अगस्त को (CG State CM) मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मिलने उनके पदुम नगर निवास गई थीं। उस समय गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू (Home Minister Tamradhwaj Sahu) भी मौजूद थे। उन्होंने मुख्यमंत्री से निगम में कर्मचारियों की कमी का हवाला देते हुए 90 नए पदों के सेटअप को शासन से मंजूरी दिलाने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने पहले प्लेसमेंट कर्मचारियों के भविष्य के प्रति विचार करने की बात कहते हुए फिलहाल नए पदों की स्वीकृति नहीं देने की बात कही। निगम सहित अन्य शासकीय संस्थाओं में कार्यरत प्लेसमेंट के कर्मचारियों के प्रति संवेदनशीलता दिखाते हुए कहा कि नए कर्मचारियों की भर्ती से एक तरफ निगम का काम प्रभावित होने और नए लोगों की भर्ती से लंबे समय से काम कर रहे सेवाएं दे रहे कर्मचारियों की आजीविका भी प्रभावित होने की जानकारी दी।

Read More : कांग्रेस हाईकमान को धर्मसंकट से बचाने मैंने सीएम की दावेदारी छोड़ी

दो कर्मचारियों को ड्यूटी से मुक्त कर नगर निगम भेज दिया

इससे नाराज महापौर ने कह दिया कि निगम में कर्मचारियों की कमी है और प्लेसमेंट के हमारे कर्मचारी सीएम और लोक स्वास्थ्य मंत्री गुरु रूद्र कुमार के निवास में सेवाएं दे रहे हैं। इससे निगम की व्यवस्था गड़बड़ा रही है। इतना कहने के बाद महापौर सीएम निवास से लौट आईं। इसके बाद सीएम निवास की व्यवस्था देख रहे अधिकारियों ने दो कर्मचारियों को ड्यूटी से मुक्त कर नगर निगम भेज दियाा। इसके दूसरे दिन 13 अगस्त को निगम आयुक्त राठौड़ ने महापौर निवास में सेवाएं दे रहे तीनों प्लेसमेंट कर्मचारियों को वापस बुला लिया।

आयुक्त ने नहीं दिया महापौर के पत्र का जवाब
निवास से कर्मचारियों को हटाए जाने के बाद से महापौर निगम आयुक्त को दो पत्र लिख चुकी है। आयुक्त से कर्मचारियों को हटाने के संबंध में स्पष्टीकरण भी मांगा है, लेकिन निगम आयुक्त राठौड़ ने महापौर के पत्र का जवाब नहीं दिया है।

Read More : सीएम भूपेश क्या पिता के विरोध का बदला बेटे से लेंगे या मंत्रीमंडल में मिलेगी जगह?

इधर आयुक्त ने मेरे निवास से भी कर्मचारियों को बुलवा लिया

महापौर- चंद्रकांता मांडले ने बताया कि नए पदों के सेटअप की स्वीकृति की मांग को लेकर सीएम से मिलने गई थी। मैंने सीएम को निगम में कर्मचारियों की कमी की वजह से काम प्रभावित होने की जानकारी दी। सीएम ने फिलहाल नए पदों पर नियुक्ति नहीं किए जाने की जानकारी दी। इसके बाद मैं वहां से लौट आई। दूसरे दिन सीएम निवास में काम करने वाले दो कर्मचारी इस्तीफा देकर चले गए। इधर आयुक्त ने मेरे निवास से भी कर्मचारियों को बुलवा लिया।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर .. ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned