थनौद में अवैध मुरुम खनन पर कार्रवाई का दिखावा, सत्ता में बैठे लोगों का नाम आया तो अफसरों ने वाहनों को बिना जब्ती के छोड़ा

Illegal murum mining: खनिज विभाग ने थनौद में अवैध मुरुम खनन के मामले की जांच के नाम पर खानापूर्ति कर ली। अधिकारी मौके पर गए। अवैध खनन व परिवहन करना पाया।

By: Dakshi Sahu

Published: 04 May 2021, 10:20 AM IST

दुर्ग. खनिज विभाग ने थनौद में अवैध मुरुम खनन के मामले की जांच के नाम पर खानापूर्ति कर ली। अधिकारी मौके पर गए। अवैध खनन व परिवहन करना पाया। लेकिन कार्रवाई के नाम पर केवल खानापूर्ति कर लौट गए। पत्रिका में समाचार प्रकाशन के बाद कोरोना के भय का नाटक कर दुबके खनिज विभाग के अधिकारी हरकत में आए। अफसरों ने दबिश देकर जांच की। कार्रवाई के नाम पर अवैध मुरुम खनन तो बंद करा दिया, लेकिन खनन में लगे बैक होलोडर और हाइवा को छोड़ दिया। हालांकि अफसर अवैध खनन के बदले वसूली का प्रकरण तैयार करने की बात कह रहे हैं।

Read more: लॉकडाउन में अवैध मुरुम खनन, जब किसी ने नहीं सुनी तो युवाओं ने सोशल मीडिया में CM को वीडियो और फोटो किया पोस्ट .....

तालाब के पार को बता दिया भंडारित मुरुम
ग्राम थनौद के तालाब में महीनेभर से अवैध मुरुम खनन व परिवहन किया जा रहा था। इसे जीई रोड चौड़ीकरण कार्य में खपाया जा रहा था। खनिज विभाग द्वारा तालाब के पार को भंडारित मुरुम बताकर ठेकेदार को परिवहन की अनुमति दी गई थी। इसके विपरीत तालाब के भीतर बैक होलोडर मशीन और हाइवा उतारकर अवैध मुरुम खनन किया जा रहा था। ग्रामीणों के मुताबिक महीनेभर से तालाब से हर दिन करीब 100 से ज्यादा हाइवा मुरुम निकाला जा रहा था।

पत्रिका ने किया था खुलासा
थनौद में लॉकडाउन का फायदा उठाकर अवैध मुरुम खनन का खुलासा पत्रिका ने किया था। पत्रिका ने इस संबंध में सिलसिलेवार समाचार प्रकाशित किया। इसके बाद ग्रामीणों ने भी अवैध खनन के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए सोशल मीडिया में मुहिम शुरू की। इस पर अफसरों ने ऐसी कार्रवाई की है कि अवैध खनन पर नियंत्रण तो नहीं लगा सकता।

मंत्री-विधायक के नाम से सकते में प्रशासन
थनौद में अवैध मुरुम खनन को लेकर सोशल मीडिया में चलाए जा रहे मुहिम में स्थानीय विधायक व मंत्री के साथ बेमेतरा के विधायक आशीष छाबड़ा पर निशाना साधा जा रहा है। मंत्री निर्वाचन क्षेत्र होने के कारण निशाने पर हैं, वहीं छाबड़ा के किसी निकटस्थ द्वारा खनन करना बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि मंत्री विधायक के नाम आने से प्रशासन हरकत में आया पर कार्रवाई के नाम पर दिखावा किया।

पीपरछेड़ी में भी कार्रवाई, यहां वाहनों में लगवा दिया ताला
खनिज विभाग के अधिकारियों ने थनौद मुरुम खनन के साथ पिपरछेड़ी में रेत खनन की शिकायत पर भी जांच व कार्रवाई की। यहां कार्रवाई में एसडीएम विनय पोयाम भी शामिल थे। यहां अफसरों ने न सिर्फ खनन बंद कराया बल्कि खनन में लगे चेन माउंट मशीन को भी ताला लगाकर जब्त कर लिया गया। इस तरह एक तरह की शिकायत पर एक दिन दो अलग-अलग कार्रवाई की गई। दीपक तिवारी खनिज निरीक्षक दुर्ग ने बताया कि थनौद में जांच की गई है। अवैध मुरुम खनन पाया गया है। अवैध खनन के एवज में वसूली का प्रकरण तैयार किया जा रहा है। पिपरछेड़ी में नियम विरूद्ध खनन पर कार्रवाई की गई है।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned