मदर-चाइल्ड हॉस्पिटल, दुर्ग में अव्यवस्था, कुत्ता कर रहा आराम

वेटिंग हॉल में जमीन पर बैठने लोग हो रहे मजबूर,

 

By: Abdul Salam

Published: 10 Sep 2021, 09:59 PM IST

भिलाई. जिला अस्पताल, दुर्ग के जच्चा-बच्चा वार्ड में अव्यवस्था बढ़ते जा रही है। यहां वेटिंग हॉल में मौजूद कुर्सियों से तीन गुना अधिक लोग जमीन पर बैठे नजर आ जाते हैं। अस्पताल में हर दिन हो रही डिलीवरी की संख्या के मुताबिक लोगों के बैठने की व्यवस्था प्रबंधन ने नहीं की है। जिसकी वजह से मजबूरी में लोग फर्श पर न सिर्फ बैठ रहे हैं बल्कि सो भी जाते हैं। अस्पताल परिसर में भी अगर शेड लगाकर कुर्सियां लगा दी जाए तो भीतर वेटिंग हॉल में मौजूद अव्यवस्था से छुटकारा मिल सकता है।

बढ़ रही हर दिन भीड़
जच्चा-बच्चा वार्ड में एक दिन में करीब 136 मरीज डिलीवरी के लिए पहुंच रहे हैं। इसके अलावा 60 से अधिक बीमार बच्चों को दिखाने के लिए माता-पिता आते हैं। बच्चों को डॉक्टर ऊपर देखते हैं। वहीं नीचे डिलीवरी के लिए जिनको लाया जाता है, उनके साथ आने वालों को यहां बहुत परेशानी होती है। चंद चेयर लगे हैं, उसमें हमेशा लोग बैठे मिलते हैं। जिसकी वजह से नीचे बैठने की मजबूरी हो जाती है। अस्पताल के कर्मचारी यह सबकुछ हर दिन देखते हैं, लेकिन किससे शिकायत करें।

बच्चों के अस्पताल में कुत्ते
अस्पताल के गेट पर पहले सुरक्षा कर्मी लगाए गए थे। अब उनको हटा दिया गया है। गेट पर कोई मौजूद नहीं होता, जिसकी वजह से कुत्ते भी अस्पताल के भीतर घूमते नजर आ जाते हैं। जच्चा-बच्चा अस्पताल होने की वजह से यहां व्यवस्था बेहतर करने की जरूरत है। वर्तमान में अस्पताल के भीतर कुत्ते को देखा जा सकता है। नवजात बच्चों के लिए यह खतरनाक है।

हर दिन होता है 40 से अधिक बच्चों का जन्म
दुर्ग के इस अस्पताल में हर दिन करीब 40 बच्चों का जन्म होता है। हर लिहाज से इसे बेहतर बनाने में शासन ने कोई कमी नहीं की है। नवजात को देखने बड़ी संख्या में लोग हर दिन आते हैं। जिसको देखते हुए यहां जो इंतजाम किए गए हैं। वह बहुत थोड़े हैं। बैठने के लिए कुर्सियां कम पड़ जाती है, जिसकी वजह से लोग जमीन पर बैठे नजर आते हैं।

सफाई के लिए मशीन की जरूरत
मदर-चाइल्ड अस्पताल में बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं, इस वजह से सफाई को बेहतर करने अब मशीन से सफाई का इंतजाम करना होगा। इससे कम समय में अधिक स्थान पर सफाई की जा सकेगी। वर्तमान में नीचे से लेकर उपर माले तक बच्चों को लेकर परिजन दौड़ लगाते रहते हैं। जिससे सफाई करने के बाद भी परिणाम बेहतर नहीं मिल रहा है। अस्पताल का फर्श बारिश की वजह से अधिक गंदा हो रहा है।

सुधारना होगा व्यवस्था
अस्पताल में मौजूद अव्यवस्था को देखने के लिए आला अधिकारियों को खुद राउंड लगाना होगा। जिससे लोगों को किस तरह की दिक्कत हो रही है, वह नजर आए। जिला अस्पताल, दुर्ग में आसपास के गांव से लेकर शहर से तक लोग आते हैं।

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned