Video: RSS नेता के फेसबुक पोस्ट से मचा बवाल, सांसद सरोज की भाभी समर्थकों के साथ घुसी घर में, किया जमकर तोडफ़ोड़

डॉ. दीप चटर्जी ने बताया कि रविवार सुबह चारूलता और उनके दोनों बेटे आए। उनके साथ तकरीबन 300 से ज्यादा लोग थे। जो गाली-गलौज करते रहे।

By: Dakshi Sahu

Published: 21 Feb 2021, 08:19 PM IST

भिलाई. फेसबुक में भाजपा के स्थानीय नेतृत्व पर सवाल उठाना भिलाई के आरएसएस नेता को भारी पड़ गया। फेसबुक पोस्ट से भड़की राज्यसभा सांसद डॉ. सरोज पांडेय की भाभी, भाजपा नेत्री चारूलता पांडेय और उनके समर्थकों ने आरएसएस नेता व चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. दीप चटर्जी के घर के बाहर हंगामा कर दिया। डॉ. दीप चटर्जी ने आरोप लगाया कि भाजपा नेत्री ने घर में घुसकर न सिर्फ उनसे बदसलूकी की बल्कि उनकी जवान बेटी और मां से भी दुव्र्यवहार किया। चारूलता के साथ पहुंचे समर्थकों ने जमकर तोडफ़ोड़ भी किया। घटना की शिकायत लेकर जब थाने पहुंचा तो वहां भी पुलिस ने शिकायत लेने से मना कर दिया। घटना से आहत होकर डॉ. दीप चटर्जी के समर्थकों ने स्मृति नगर थाने का घेराव कर दिया। रविवार दोपहर को थाने में लगभग दो घंटे तक बवाल चलता रहा। दोनों पक्ष घंटों तक थाने के बाहर डटे रहे। चारूलता पांडेय के समर्थक थाने से हटे तो डॉ. चटर्जी के समर्थन में आए भाजपाइयों ने प्रदर्शन किया।

RSS नेता ने लगाया यह आरोप
डॉ. दीप चटर्जी ने बताया कि रविवार सुबह चारूलता और उनके दोनों बेटे आए। उनके साथ तकरीबन 300 से ज्यादा लोग थे। जो गाली-गलौज करते रहे। घर के बाहर मजमा किया। इसके बाद बेटी के साथ हुज्जत की। मेरी बेटी को थप्पड़ भी जड़ दिया। मां और पत्नी के साथ दुव्र्यवहार किया। किसी ने पुलिस को तत्काल बुलाया। तब जाकर यहां से भीड़ हटी। अब जब मैं थाने में शिकायत लेकर आया हूं तो पुलिस शिकायत दर्ज नहीं कर रही है।

यह है विवाद की वजह
यह पूरा विवाद फेसबुक में किए पोस्ट की वजह से हुआ हैं। भाजपा नेता व आरएसएस के लीडर डॉ. दीप चटर्जी ने फेसबुक पर एक पोस्ट करते हुए लिखा है कि "देखो अब तो समाजवादी बहू ने भी राम जी पर अपनी "निधि समर्पण" कर दी। अब तो हिन्दू इसे "चंदा" बोलना बंद करें। वैसे हमारे यहां भिलाई में एक 'शाही दशहराÓ होता है। उस पैसे को आप चंदा कह सकते हैं। उस चंदे से चोरी भी होती है। और चंदा लेने/देने वाले अपनी निधि समर्पित नहीं करते ! वह भय या प्रलोभन से 'चंदाÓ ही देते हैं। सात घंटे पहले एक और पोस्ट किया जिसमें भिलाई भाजपा संगठन पर सवाल उठाते हुए आंतरिक लोकतंत्र नदारत, चाटुकारिता चरम पर, जीतने की क्षमता नगण्य, चाल-चरित्र चेहरा शिथिल, साहस शून्य, भत्र्सना योग्य लिखा है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned