scriptNandini Road: Death dancing on the heads of hundreds of families | Bhilai नंदिनी रोड से हथखोज के बीच सैकड़ों परिवार के सिर पर नाच रही मौत | Patrika News

Bhilai नंदिनी रोड से हथखोज के बीच सैकड़ों परिवार के सिर पर नाच रही मौत

एचटी लाइन की जद में आने से एक मासूम की गई जान, विभाग कर रहा बड़े हादसे का इंतजार

भिलाई

Updated: February 23, 2022 09:34:16 pm

भिलाई. हथखोज से एक साथ बिजली की दो हाइटेंशन लाइन (एचटी लाइन) नंदिनी रोड तक दौड़ रही है। इसके नीचे सैकड़ों परिवार बसे हुए हैं। मोर जमीन मोर घर व प्रधानमंत्री योजना के तहत एक परिवार ने कच्चा मकान तोड़कर पक्का घर बनाया तो उनके छत से होकर यह लाइन गुजर रही है, पड़ोस में रहने वाला 6 साल का मासूम ब्या खेलते हुए इस तार के करीब पहुंचा और इस तरह से झुलसा की चिकित्सक उसे बचा नहीं सके। मासूम की मौत के बाद मोहल्ले में दहशत है कि अगर कोई कपड़ा सुखाने भी छत पर गया तो लौटेगा या नहीं। बिजली विभाग के अधिकारियों को न तो इस घटना की जानकारी है और न इस एचटी लाइन को यहां से शिफ्ट करने की कोई योजना बता रहे हैं। इससे आने वाले बारिश के वक्त कोई बड़ा हादसा हो सकता है, इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता।

Bhilai नंदिनी रोड से हथखोज के बीच सैकड़ों परिवार के सिर पर नाच रही मौत
Bhilai नंदिनी रोड से हथखोज के बीच सैकड़ों परिवार के सिर पर नाच रही मौत

एचटी लाइन के नीचे से झुककर बाउंड्रीवाल में सुखा रहे कपड़ा
नंदइया पारा में जिस छत पर मासूम साइकिल की चैन पकड़कर खेलते हुए चढ़ा, उस छत में एचटी लाइन इतने हाइट पर है कि छोटे से बालक के हाथ में मौजूद चैन हाथ घुमाते ही उस तार पर जाकर लगी। इसके बाद उस बालक की हालत करंट लगने से इतनी खराब हो गई कि उसे चिकित्सक भी बचा नहीं सके। घर में रहने वाले सदस्य इस छत के बाउंड्रीवाल में कपड़ा सुखाने जाते थे, उनका कहना है कि एचटी लाइन के नीचे से झुककर वे बाउंड्रीवाल में कपड़ा अब तक सुखा रहे थे। इस बात से बेखबर थे कि यह लाइन साधारण नहीं एचटी लाइन है।

छत पर बनवाया दूसरी दीवार
घटना के बाद जिस घर के छत पर यह हादसा हुआ उसने दूसरा बाउंड्रीवाल बनवा दिया है। जिससे छत का आधा हिस्सा जहां से एचटी लाइन गुजरी है। वहां तक कोई पहुंच न सके। यह एक छत का मामला है वह भी हादसे के बाद। यह लाइन सैकड़ों परिवार के छत से होकर गुजर रही है। उन घरों में रहने वालों की जिंदगी अब खतरे में आ गई है।

टूट रहे झोपड़े, मोर जमीन मोर घर हो रहे तैयार
हथखोज जाने वाली सड़क और नंदिनी रोड के बीच दशकों से यह दोनों एचटी लाइन दौड़ रही है। इसके नीचे सैकड़ों झोपड़ी उस वक्त से बनी हुई है। अब बड़ी संख्या में लोग छत्तीसगढ़ सरकार की मोर जमीन मोर घर व प्रधानमंत्री योजना के तहत झोपड़ों को तोड़ मकान बनाना शुरू किए हैं। पक्का मकान बनाने के बाद छत में पहुंचते ही एचटी लाइन से उनका सामना हो रहा है, जो जमीन से महज 15 से 20 फीट उपर से गुजर रही है।

शिफ्ट करने की है जरूरत
नंदइया पारा, मिनी माता नगर समेत अन्य मोहल्ले से होकर गुजरने वाली हाइटेंशन लाइन का एक पोल दूसरे पोल से काफी दूर है। जिसकी वजह से एचटी लाइन के तार बीच में नीचे आते जा रहे हैं। बारिश के दिनों में घरों के करीब एचटी लाइन होने से बड़ा हादसा हो सकता है। इससे बचने के लिए अगर बिजली पोल को उपर करते हैं तो खतरा कम होगा, पर बना रहेगा। बेहतर होगा कि इसे दूसरे जगह शिफ्ट कर दिया जाए। इस संबंध में 2018 के पहले प्रपोजल गया हुआ है, जिस पर अमलीजामा पहनाना शेष है।

दुनिया से चला गया कलेजे का टुकड़ा
देहुती मानिकपुरी, मृतक की मां, निवासी नंदइया पारा, खुर्सीपार ने बताया कि एचटी लाइन छत में इतने नीचे से गुजर रही थी कि 6 साल का बच्चा उसकी जद में आ गया। कलेजे से लगाकर उसे पाला था, उसके जाने के बाद सबकुछ सूना-सूना लगता है।

ऐसा किसी और परिवार के साथ न हो
सी दास मानिकपुरी, मृतक के पिता ने बताया कि मेरे बेटे की मौत जिस तरह से एचटी लाइन की वजह से हो गई है। वैसा किसी और परिवार के साथ न हो। इस लिए बेहतर है कि यहां से इस लाइन को शिफ्ट कर दिया जाए।

शासन की योजना के तहत पैसा लेकर बना रहे मकान
नरेश सागरवंशी, निवासी, नंदइया पारा, खुर्सीपार ने बताया कि शासन की योजना के तहत सारे लोगों ने आवेदन किया है। कच्चे मकान से छुटकारा पाने पक्का मकान बना रहे हैं। पक्का मकान बनाने के बाद छत पर देखने से हाइटेंशन लाइन गुजर रही है। आज नहीं तो कल इससे और घटना होगी ही।

हादसे की जानकारी नहीं
शिव हरे, एई, सीएसईबी, खुर्सीपार, ने बताया कि एचटी लाइन की जद में आने से नंदइया पारा, खुर्सीपार में रहने वाले एक बालक की मौत होने की जानकारी नहीं है। एचटी लाइन का हाइट बढ़ाने प्रयास किया जाएगा, अगर मौके पर बिजली पोल लगाने के लायक जगह बची होगी तो।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.