scriptNew guests coming to woo the tourists of Maitribagh in the new year | नए साल में मैत्रीबाग के लाखों पर्यटकों को लुभाने आ रहे नए मेहमान | Patrika News

नए साल में मैत्रीबाग के लाखों पर्यटकों को लुभाने आ रहे नए मेहमान

गोल्डन जुबली ईयर बन जाएगा खास.

भिलाई

Updated: December 29, 2021 10:59:49 pm

भिलाई. मैत्रीबाग नए साल में गोल्डन जुबली मनाने जा रहा है। 1972 में यह अस्तित्व में आया अब 50 साल हो रहे हैं। प्रबंधन ऐसे खास मौके पर पर्यटकों को लुभाने के लिए नए मेहमान लाने की तैयारी में है। कोरोनाकाल की वजह से पिछले दो साल के दौरान वन्य प्राणियों के एक्सचेंज की सारी फाइलें धूल खाती रही। अब फिर एक बार नए सिरे से जू अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड के साथ पत्रचार शुरू कर दिया गया है। मैत्रीबाग के जिन बाड़ों में सन्नाटा पसरा है, उम्मीद है कि नए मेहमानों के आने से वहां हलचल बढ़ जाएगी।

नए साल में मैत्रीबाग के लाखों पर्यटकों को लुभाने आ रहे नए मेहमान
नए साल में मैत्रीबाग के लाखों पर्यटकों को लुभाने आ रहे नए मेहमान

बब्बर शेर, बंगाल टाइगर, तेंदुआ और मगर के केज खाली
मैत्रीबाग में लॉयन का बाड़ा लंबे समय से खाली है। दो मादा है जिसे भीतर रखा गया है। बब्बर शेर की लकवाग्रस्त होने के बाद हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। एक जोड़ा लॉयन लाने को लेकर पत्राचार किया जा रहा है। इसी तरह से बंगाल टाइगर भी जू से गायब ही हो गए हैं। उनके खाली बाड़े को देख पर्यटक लौट जाते हैं। तेंदुआ की भी बिछड़ चुकी है। इसी तरह से मगर भी इस वक्त जू में एक भी नहीं है। मैत्रीबाग के प्रमुख बाड़े में सन्नाटा होने से पर्यटक यहां आते बड़े उत्साह के साथ है लेकिन निराश होकर लौट जाते हैं।

बीएसपी की तरह मैत्रीबाग के एक्सपांशन प्रोजेक्ट में हो रहा विलंब
मैत्रीबाग के एक्सपांशन को लेकर पहले मसौदा तैयार किया गया। जू को नए स्वरूप देने के लिए मास्टर प्लान तैयार कर सेंट्रल जू अथॉरिटी ऑफ इंडिया को भेजा गया। वहां से संशोधन के बाद अनुमति मिली। बीएसपी के एक्सपांशन प्रोजेक्ट की तरह मैत्रीबाग के विस्तार की योजना भी ठंडे बस्ते में है।

मैत्रीबाग में हर माह आते हैं 1 लाख पर्यटक
मैत्रीबाग में हर माह करीब एक लाख पर्यटक आते हैं। हर पर्यटक 15 रुपए की टिकट लेता है। यह जू की आवक है। इसके अलावा भीतर में एक होटल किराए पर दिए हैं। जिससे हर माह करीब 3 लाख रुपए से अधिक आता है। वाहन स्टैंड व नौका विहार का ठेका नहीं हुआ है। वहां से भी करीब एक-एक लाख रुपए प्रबंधन के खजाने में हर माह आ जाते हैं।

बच्चों को लुभा रही छुक-छुक गाड़ी
मैत्रीबाग में मिनी ट्रेन बच्चों को खूब लुभा रही है। बच्चों के आने की संख्या बढ़ रही है, जिसको देखते हुए प्रबंधन ने हर दिन इसे चलाने का फैसला किया है। इसे दोपहर बाद चलाया जा रहा है। पर्यटक चाहते हैं कि सुबह से ही मिनी ट्रेन को चलाना शुरू कर दिया जाए। जिससे अधिक लोग इसमें सफर कर सके।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कततत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanNew Maruti Alto का इंटीरियर होगा बेहद ख़ास, एडवांस फीचर्स और शानदार माइलेज के साथ होगी लॉन्चVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!प्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टइन 4 राशि की लड़कियां अपने पति की किस्मत जगाने वाली मानी जाती हैंToyoto Innova से लेकर Maruti Brezza तक, CNG अवतार में आ रही है ये 7 मशहूर गाड़ियां, जानिए कब होंगी लॉन्च

बड़ी खबरें

Coronavirus update: 24 घंटे में कोरोना के 3 लाख 37 हजार नए केस, 488 मौतेंUP Assembly Elections 2022 : बसपा की दूसरी लिस्ट में 3 महिलाएं, 22 मुस्लिम चेहरें शामिल, देखिए पूरी लिस्टClub House Chat मामले में दिल्ली पुलिस कर रही 19 वर्षीय छात्र से पूछताछ, हरियाणा से भी हुई तीन गिरफ्तारियांCorona Vaccine: वैक्सीन के लिए नई गाइडलाइंस, कोरोना से ठीक होने के कितने महीने बाद लगेगा टीकाGood News: प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस बने माता-पिता, एक्ट्रेस ने पोस्ट शेयर कर फैंस को बताया- बेबी आया है...पीएम मोदी ने की जिला अधिकारियों से बात, बोले- आजादी के 75 साल बाद भी कई जिले रह गए पीछे, अब हो रहा अच्छा कामPM Kisan: Budget 2022 में किसानों को मिल सकती है बड़ी सौगात,पीएम किसान सम्मान की रकम में हो सकती है बढ़ोतरीUP Election 2022: .. इस प्रदेश में तो आधी आबादी ही तय करती है किसकी बनेगी सरकार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.