सरकारी पैसा खाते में डालने का झांसा देकर एक महीने में 22 लोगों से लाखों रुपए की ठगी, जांच में जुटी पुलिस

कोरोना वायरस संक्रमण के संकट में शासन द्वारा सहायता राशि दिए जाने का लालच देकर ठगों ने कई लोगों से बैंक डिटेल लेकर उन्हें ठगी का शिकार बना लिया है। (cyber crime in Chhattisgarh)

By: Dakshi Sahu

Published: 23 Apr 2020, 11:36 AM IST

भिलाई. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus in chhattisgarh) के संकट में शासन द्वारा सहायता राशि दिए जाने का लालच देकर ठगों ने कई लोगों से बैंक डिटेल लेकर उन्हें ठगी का शिकार बना लिया है। सहायता राशि दिए जाने और फेसबुक आइडी हैक कर मदद के नाम पर फर्जी मैसेज के जरिए रुपए ऐंठने की 22 से ज्यादा शिकायत पुलिस को मिली है। लॉकडाउन का फायदा उठाकर ठगों ने लोगों से लाखों रुपए ठग लिए।

ठगों ने महामारी का फायदा उठाते हुए भोलेभाले लोगों को फोन किया। शासन की ओर से सहायता राशि देने का झांसा दिया। कई लोगों ने उनके झांसे में आकर बैंक खाते की पूरी डिटेल साझा कर दी। किसी के खाते से 30 हजार तो किसी के खाते से 50 हजार पार हो गया। सुपेला थाना पुलिस ने बताया कि एक युवती शिकायत लेकर आई थी।उसके मोबाइल पर कोरोना को लेकर शासन द्वारा पैसा देने की जानकारी दी गई। युवती उसके झांसे में आ गई ठग ने उससे बैंक का पूरा डिटेल ले लिया। इसके बाद उसके बैंक खाते से 30 हजार रुपए पार कर दिया। साइबर सेल में मामले की जांच चल रही है।

ठगों ने बैंक से उड़ाए लाखों रुपए
22 मार्च को लॉकडाउन हुआ। शातिर ठगों ने लोगों को घर बैठे ठगी का शिकार बनाया। एक माह में 22 शिकायत साइबर सेल में आई। पिछले साल 22 मार्च से अप्रैल एक माह में 24 मामले की शिकायत मिली थी। कोरोना संकट में मदद के नाम पर लोगों को झांसा देकर ठगों ने लाखों रुपए ठग लिए।

फेसबुक हैक करने के कई मामले
लोगों का फेसबुक अकाउंट हैक कर उनको परिचितों को मैसेज भेजा जा रहा है। दोस्त के पिता की तबियत बहुत खराब है। उसे 15 हजार की जरुरत है। रावणभाठा परदेशी चौक निवासी गौकरण निषाद की फेसबुक आईडी को ठग ने हैक कर लिया। फिर उसके परिचितों से पैसे की मांग कर रहे थे। मैसेंजर में मैसेज करते थे कि हॉस्पिटल में भर्ती हूं। 10 हजार की जरूरत है। उनका एक फेसबुक दोस्त अंकुश पिल्ले ने फोन किया कि रात में पैसे की कैसे जरुरत पड़ गई। गौकरण ने मना कर दिया कि हमने पैसे नहीं मांगे। ठग ने अलग-अलग लोगों से 40 हजार रुपए की मांग किया था। अच्छा हुआ कि उसके दोस्तों ने कॉल कर जानकारी दी।

सक्रिय हो गए हैं ठग
साइबर सेल प्रभारी गौरव तिवारी ने बताया कि कोरोना संक्रमण की इस वैश्विक महामारी में भी ठग सक्रिय हंै। वे शासन द्वारा दी जाने वाली सहायता राशि का झांसा देकर फोन करते थे। लालच में आकर लोगों ने अपने बैंक की डिटेल व ओटीपी नम्बर बता दिया। ठग उनके खाते से पैसे उड़ा लिया। एक माह में 22 मामले की शिकायत मिली। इसी तरह फेसबुक आईडी हैक कर लोगों को ठगी के आधा दर्जन मामले आए है। सभी मामले को जांच में लिया गया है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned