कोरोना स्ट्रेन के बीच ब्रिटेन से छत्तीसगढ़ लौटा प्रवासी भारतीय, बिना जांच के स्वास्थ्य विभाग ने किया होम क्वारंटाइन

दुर्ग जिले में ब्रिटेन से एक व्यक्ति आया है। जिला प्रशासन ने उसे 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन में रहने के निर्देश दिया है। (coronavirus strain in india)

By: Dakshi Sahu

Published: 24 Dec 2020, 12:48 PM IST

भिलाई. ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन से पूरी दुनिया में हड़कंप मच गया है। भारत सरकार ने ब्रिटेन से आने वाले लोगों की निगरानी करने के लिए सभी राज्य सरकारों और जिला प्रशासन को अलर्ट कर दिया है। इसी बीच दुर्ग जिले में ब्रिटेन से एक व्यक्ति आया है। जिला प्रशासन ने उसे 14 दिनों तक होम क्वारंटाइन में रहने के निर्देश दिया है। इधर नए कोरोना वायरस स्ट्रेन को लेकर खतरा बढ़ गया है। जिले में बुधवार को 3 कोरेाना संक्रमितों की मौत हो गई, वहीं 105 कोरोना के नए मरीज मिले हैं।

ब्रिटेन से कर्मचारी नगर आया एक व्यक्ति
ब्रिटेन से आया व्यक्ति कर्मचारी नगर दुर्ग का है। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों की उससे बात हुई है। अधिकारियों ने बताया कि उसने अपनी कोरोना जांच नेगेटिव होने की बात कही है। बावजूद स्वास्थ्य विभाग उसके पूरे परिवार की कोरोना जांच कराने पर विचार कर रहा है।

मंगलवार को लौटा फिर कहां-कहां गया हिस्ट्री खंगाल रहा स्वास्थ्य विभाग
मंगलवार को ब्रिटेन से लौटा व्यक्ति दुर्ग में कहां-कहां गया, यह भी साफ नहीं है। ब्रिटेन से लौटने के बाद उसने आरटीपीसीआर जांच करवाया या नहीं या जांच संबंधी कोई पर्ची जमा करवाया है या नहीं यह अभी तक साफ नहीं हुआ है।

यह है केंद्र सरकार का आदेश
केंद्र सरकार ने यूके से उड़ानों को 31 दिसंबर तक या अगले आदेश तक अस्थायी रूप से स्थगित किया है। वहीं आदेश जारी किया गया है कि 21 से 23 दिसंबर के बीच की अवधि के दौरान ब्रिटेन में हवाई-अड्डों के माध्यम से यात्रा करने वाले या भारत में उतरने वाले और आने वाले यात्रियों को आरटी-पीसीआर परीक्षण में शामिल किया जाएगा।

कोरोना के नए रूप से पूरी दुनिया में दहशत
ब्रिटेन में मिले कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन से पूरी दुनिया दहशत में आ गई है। कोरोना वायरस के इस प्रकार की भयावहता को देखते हुए दुनियाभर के करीब 40 से अधिक देशों ने ब्रिटेन से खुद को अलग-थलग कर लिया है। भारत समेत यूरोप के देशों ने ब्रिटेन से आने-जाने वाली सभी फ्लाइट को रद्द कर दिया है और सीमाओं को सील कर दिया है। भारत में भी इस वायरस को लेकर हलचल तेज हो गई है। कोरोना वायरस का नया रूप तीन महीने पहले 20 से 21 सितंबर के बीच लंदन के केंट इलाके से लिए गए सैंपल में सामने आया था। वायरस के इस जीनोम का नाम बी.1.1.7 रखा गया। कोरोना वायरस के कई रूप सामने आए हैं, जिनमें तीन अहम हैं और तीनों की पहचान हो चुकी है। वैज्ञानिकों ने बताया है कि यह नया स्ट्रेन 70 गुना तेजी से फैलता है। इसलिए यह पहले वायरस के मुकाबले कहीं ज्यादा संक्रामक है।

coronavirus
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned