OMG सीएम मेडिकल कॉलेज में दाखिल मरीजों को हो रही परेशानी, घर वाले खरीद कर भेज रहे दवा

मरीजों के संबंध में परिजनों को नहीं दी जा रही जानकारी. यहां आकर तलाश लो.

By: Abdul Salam

Updated: 16 Apr 2021, 11:15 PM IST

भिलाई. सीएम मेडिकल कॉलेज में राजनांदगांव से पिता को दाखिल करने आए बेटे ने बताया कि पूरा एक दिन बीत जाने के बाद भी अस्पताल से कोई दवा नहीं दी गई है। तब मार्केट से दवा खरीद कर भेजा हूं। पिता से बात करने पर उन्होंने बताया कि बुखार व दूसरी दवा जो बेटे ने भेजा उसे खाया है। सांस लेने में दिक्कत हो रही थी, तो ऑक्सीजन लगा दिए हैं। अस्पताल में प्रबंधन के लिए जिला प्रशासन ने अधिकारी को तैनात कर दिया है। यहां जरूरत अधिकारी से अधिक चिकित्सक की है, जिसकी देखरेख में मरीजों को रखा जाए। मरीज दाखिल होते ही उनकी तबीयत के मुताबिक दवा दी जानी चाहिए। अब तक यह व्यवस्था बहार नहीं हो सकी है।

नहीं मिल रही मरीज की जानकारी
जामुल में रहने वाले एक युवक की कोरोना से तबीयत बिगड़ी। उसे 9 अप्रैल 2021 को सीएम मेडिकल कॉलेज में दाखिल किया गया। पिछले दो दिनों से उससे परिवार वाले बात करने कोशिश कर रहे हैं, तो मोबाइल बंद आ रहा है। जिससे परिजन परेशान हैं। यहां जिनको नोडल अधिकारी नियुक्ति किया गया है। वे परिजन का मोबाइल नहीं उठा रहे हैं। अस्पताल के गेट पर बैठे पुलिस.

यहां आकर तलाश लो
सीएम मेडिकल कॉलेज के बाहर एक लिस्ट चस्पा कर दी गई है। जिसमें बीमारों को तलाशने के लिए कहा गया है। यहां परिजन अपनों का नाम देखते-देखते थक जाते हैं। वहीं गेट पर मौजूद पुलिस अधिकारी और जवान किसी को मरीज से मिलने जाने देते हैं तो किसी को फटकार लगा देते हैं। जिसकी वजह से लोग नाराज भी हो रहे हैं।

बुजुर्ग मरीजों के साथ एक को रहने की अनुमति
सीएम मेडिकल कॉलेज में ऐसे बुजुर्ग जो खुद उठकर बाथरूम जाने की स्थिति में नहीं है, उनके साथ परिवार के एक सदस्य को रहने की अनुमति दी जा रही है। जिससे वे उनका देखभाल कर सके। यह मरीजों के लिए बेहतर फैसला है, इस तरह की व्यवस्था सेक्टर-9 अस्पताल में पहले से ही है। वहां भी मरीज के साथ एक व्यक्ति को रहने के लिए दिया जाता है। जिससे मरीज की स्थिति के संबंध में पहले से ही परिवार के सदस्यों को जानकारी रहती है।

खाना छोडऩे के लिए आ रहे लोग
अस्पताल का खाना जिस मरीज को पसंद नहीं आ रहा है, उसके परिजन उसके लिए घर से खाना लाकर दे रहे हैं। इसके साथ-साथ कपड़ा और दूसरे सामान भी पहुंचा रहे हैं। यह सामान भीतर तक जाकर देने की अनुमति किसी को नहीं है। इसे पहुंचाने के लिए व्यवस्था के तहत कुछ आदमी यहां रखे गए हैं।

Covid-19 in india
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned