छह महीने की शिकायत को हल्के में लिया, भीषण गर्मी में व्यर्थ बह गया 30 लाख लीटर स्वच्छ पानी

Dakshi Sahu

Publish: Apr, 18 2018 10:59:26 AM (IST)

Bhilai, Chhattisgarh, India
छह महीने की शिकायत को हल्के में लिया, भीषण गर्मी में व्यर्थ बह गया 30 लाख लीटर स्वच्छ पानी

नगर निगम के रिसाली जोन ऑफिस स्थित टंकी से वार्डों में पेयजल आपूर्ति के लिए बिछाई गई मेन सप्लाई लाइन सोमवार को फूट गई।

भिलाई . नगर निगम के रिसाली जोन ऑफिस स्थित टंकी से वार्डों में पेयजल आपूर्ति के लिए बिछाई गई मेन सप्लाई लाइन सोमवार को फूट गई। इसके कारण 32 लाख लीटर क्षमता की टंकी लगभग खाली हो गई। रिसाली शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल परिसर और आशीष नगर पश्चिाम की गलियां पानी-पानी हो गई। तेज बहाव के साथ घरों में भी पानी घुसने लगा। इसके कारण रिसाली क्षेत्र के दो वार्ड 61 और 62 में पेयजल आपूर्ति नहीं हो सकी।

टंकी से वार्डों में पानी आपूर्ति केे लिए 600 मिलीमीटर की कास्ट आयरन की पाइप लाइन बिछाई गई है। यह लाइन रिसाली शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल परिसर के भीतर से गुजरी हुई है। पाइप में पहले से ही फूटा हुआ था। कुछ दिन से लगातार स्कूल कैंपस में पानी रिस रहा था। जोन के अधिकारियों ने मंगलवार को सुबह पानी आपूर्ति करने के बाद शट डाउन लेकर मरम्मत करने की योजना बनाई थी।

इसके लिए सोमवार को खुदाई कर पाइप में लीकेज को भी ढंूढ लिया था। कास्ट आयरन के पाइप में लीकेज को एमजे कॉलर से बंद नहीं किया जा सकता इसलिए सोमवार को इसके लिए पूरी सामग्रियां जुटाई गई। मंगलवार को मरम्मत शुरू कर पाते इससे पहले ही अलसुबह करीब 5.30 बजे पाइप पानी का प्रेशर सह नहीं पाया और फूट गया।

रिसाली बस्ती, प्रगति नगर और मैत्री कुंज में नहीं हुई पानी सप्लाई

टंकी का पूरा पानी बेकार बह जाने से वार्ड 6० रिसाली बस्ती और वार्ड 61 प्रगति नगर व मैत्री कुंज में मंगलवार की सुबह पानी आपूर्ति नहीं हो पाई। यहां की करीब 20 हजार आबादी को पानी के लिए तरसना पड़ा। हालांकि नगर निगम ने वैकल्पिक व्यवस्था के तहत टैंकर से पानी आपूर्ति की, लेकिन वह नाकाफी रहा। रिसाली बस्ती के कुछ मोहल्लों में ही पानी पहुंच सका।

पूरी टंकी खाली हो गई

दो फीट व्यास का पाइप डेढ़ मीटर फटने से कुछ ही देर में 32 लाख लीटर की टंकी लगभग खाली हो गई। केवल रिसीवर वॉल्व में ही पानी बचा। इससे स्कूल परिसर पानी से लबालब हो गया। घुटने तक पानी भरने से स्कूली बच्चों और स्टाफ को काफी परेशानी हुई। वहां रहने वाले सशस्त्र सीमा बल के जवानों को भी अपना सामान भीगने से बचाने जद्दोजहद करना पड़ा।

डेढ़ मीटर पाइप फटकर अलग हो गया

निगम के अधिकारियों ने बताया कि पाइप डेढ़ मीटर पाइप फटकर अलग हो गया। ऐसे में किसी भी स्थिति में टंकी को खाली होने से रोक पाना संभव नहीं था। वैसे भी मरम्मत के लिए शट डाउन लेना ही पड़ता। पूरी टंकी खाली होने के बाद मरम्मत कार्य शुरू किया गया। देरशाम तक पाइप लाइन दुरस्त कर ली गई।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned