Breaking: प्रधानमंत्री मोदी के सामने जब CM रमन ने कहा, मेरे चप्पल घिस गए थे IIT भिलाई के लिए...

Dakshi Sahu

Publish: Jun, 14 2018 03:44:20 PM (IST)

Bhilai, Chhattisgarh, India
Breaking:  प्रधानमंत्री मोदी के सामने जब CM रमन  ने कहा, मेरे चप्पल घिस गए थे IIT भिलाई के लिए...

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पीएम के सामने कहा कि उन्हें छत्तीसगढ़ में आईआईटी लाने के लिए 14 साल चप्पल घिसना पड़ा।

दाक्षी साहू @भिलाई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को आईआईटी भिलाई का शिलान्यास जयंती स्टेडियम मैदान में आयोजित विशाल जनसभा में किया। वहीं लगभग 22 हजार करोड़ रुपए के विकास की सौगात छत्तीसगढ़ की जनता को दिया। कैबिनेट मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय के स्वागत भाषण के बाद मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पीएम के सामने कहा कि उन्हें छत्तीसगढ़ में आईआईटी लाने के लिए 14 साल चप्पल घिसना पड़ा।

2003 से वे लगातार एजुकेशन हब में आईआईटी की मांग कर रहे थे। जिसे दिल्ली में अनसुना किया जा रहा था। नरेंद्र मोदी के पीएम बनते ही महज पांच मिनट में आईआईटी भिलाई की परिकल्पना पूरी हो गई। पीएम ने देश के बड़े एजुकेशन हब के रूप में पहचाने जाने वाले भिलाई को आईआईटी की सौगात दे दी। इसके लिए सीएम ने मंच से पीएम का आभार जताया। श्रमवीरों की नगरी में कर्मवीर प्रधानमंत्री का गर्म जोशी से स्वागत किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भिलाई की जनता का अभिवादन छत्तीसगढ़ी में किया। उन्होंने मंच से कहा संगी, जहुंरिया, नोनी-बाबू मन ला जय जोहार। छत्तीसगढ़ महतारी के प्रताप के चिन्हारी मन ला जय जोहार। पीएम के मुंह से छत्तीसगढ़ी सुनते ही सभा स्थल तालियों से गूंज पड़ा। पीएम ने भिलाई को जिंदगी बनाने वाला शहर बताया।

पीएम ने कहा कि कच्छ से कटक तक, कारगिल से कन्याकुमारी तक बिछी रेल की पटरियां बनाने वाले फौलादों की नगरी भिलाई है। उन्होंने 18 हजारा करोड़ रुपए के भिलाई स्टील प्लांट के एक्सपांशन प्रोजेक्ट को देश के नाम समर्पित किया। स्टील उद्योग में नए कीर्तिमान बनाने वाले श्रमवीरों के प्रति आभार जाताया।

दुपहिया में घूमता था छत्तीसगढ़ में
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि जब छत्तीसगढ़ मध्यप्रदेश से अलग नहीं हुआ था तब संगठन के काम के दौरान कई बार दुपहिया में बैठकर छत्तीसगढ़ के जिलों में घूमते थे। यहां का कोई जिला ऐसा नहीं बचा है जहां वे नहीं गए होंगे। तब के छत्तीसगढ़ और अब के छत्तीसगढ़ में जमीन आसमान का अंतर नजर आता है।

आईआईटी की रखी आधारशिला
स्वागत भाषण के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने विभिन्न कार्यक्रमों का लोकार्पण किया। सबसे पहले मंच पर ही टीवी स्क्रीन के माध्यम से डेवलपमेंट और छत्तीसगढ़ और विकास यात्रा का लाइव शो हुआ। इसके बाद भिलाई इस्पात संयंत्र की विस्तार परियोजना को देश के नाम समर्पित किया।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned