OMG पहली बार पॉजिटिविटी रेट तीस फीसदी के नीचे, राहत भरी खबर

23 संक्रमितों ने तोड़ा दम, सुपेला अस्पताल के 15 मरीज संक्रमित.

By: Abdul Salam

Updated: 20 Apr 2021, 11:15 PM IST

भिलाई . जिला में मंगलवार को रिकॉर्ड 5736 लोगों की सैंपल लिए गए। जिसमें से सिर्फ 1680 लोग ही पॉजिटिव आए हैं। यह पहली बार है कि जब संक्रमण 30 फीसदी से नीचे आ गया है। लोगों के लिए यह बड़ी राहत की बात है। ठीक दस दिन पहले के आंकड़ों पर नजर डालें तो तब 56 फीसदी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही थी। इसे जिला प्रशासन लॉक डाउन के असर के तौर पर देख रहा है। लॉक डाउन की वजह से बड़ी संख्या में लोग अपने घरों के भीतर हैं, जिससे पॉजिटिविटी रेट में कमी आ रही है।

बढ़ाया गया सैंपलिंग का काम
लॉक डाउन लगने के बाद हर दिन करीब 4000 सैंपल लिए जा रहे हैं। आज साढ़े पांच हजार से अधिक सैंपल लिए गए और इसमें 1680 मरीज पॉजिटिव आए हैं। पॉजिटिव मरीजों की संख्या में गिरावट इस बात का संकेत है कि जिले में लॉकडाउन का असर संक्रमण पर हो रहा है। लॉक डाउन की वजह से कोरोना की गतिशीलता थमी है और धीरे-धीरे संक्रमण घट रहा है एंटीजन रिपोर्ट में भी इस बात के संकेत मिले हैं। पहले एंटीजन रिपोर्ट में 48 फीसदी तक पॉजिटिविटी दर्ज की गई थी जो कि काफी नीचे आ चुकी है।

बीएसपी के एक अधिकारी समेत पांच ने दम तोड़ा
भिलाई इस्पात संयंत्र में रेल स्ट्रक्चर मिल (आरएसएम) के डीजीएम मैकेनिकल, एसएमएस-तीन के एक कर्मी, फोर्ज शॉप, कोक ओवन, मर्चेंट मिल के एक-एक कर्मियों ने मंगलवार को दम तोड़ दिया। संयंत्र कर्मचारी अब जिला प्रशासन से सोशल मीडिया के माध्यम से पूछ रहे हैं कि स्थानीय प्रशासन अब बीएसपी या उसके कई विभागों को कंटेनमेंट जोन क्यों नहीं बना रहा है। एसएमएस-दो में अब तक 90 से अधिक कार्मिकों को कोरोना हो चुका है।

90 से अधिक का अंतिम संस्कार
जिला में मंगलवार को विभिन्न मुक्तिधाम में करीब 96 शवों का कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया गया। जिसमें राम नगर मुक्तिधाम, भिलाई में करीब 30, रिसाली मुक्तिधाम में करीब 28 और दुर्ग मुक्तिधाम में लगभग 38 शवों का अंतिम संस्कार किया गया है।

शास्त्री अस्पताल के 15 मरीज एक साथ हुए संक्रमित
लाल बहादुर शास्त्री शासकीय अस्पताल, सुपेला में सस्पेक्टेड मरीजों को रखकर इलाज किया जा रहा है। जिसमें से 15 मरीज एक साथ पॉजिटिव आए हैं। शेष मरीजों की जांच रिपोर्ट अब तक मिली नहीं है। जांच रिपोर्ट आने के बाद साफ होगा कि और कितने मरीज संक्रमित हैं। यहां काम करने वाले स्टाफ को भी पीपीई किट पहनकर काम करने कहा गया है।

379512 डोज लगा वैक्सीन का
जिला में अब तक 379512 डोज वैक्सीन का लग चुका है। अब स्वास्थ्य विभाग 1 मई 2021 से 18 साल की उम्र से अधिक के युवाओं को वैक्सीनेशन को लेकर तैयारी में जुट गया है। विभाग इसके लिए तमाम टीमों को भी तैयार रहने कहा है।

Covid-19 in india
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned