31 को पल्स पोलियो अभियान, स्वास्थ्य विभाग के लिए चुनौती, तैयारी पूरी

स्वास्थ्य विभाग के लिए चुनौती.

By: Abdul Salam

Published: 14 Jan 2021, 11:39 PM IST

भिलाई. पल्ल पोलियो का ड्रॉप बच्चों को 31 जनवरी 2021 को पिलाया जाएगा। कोरोना वैक्सीन 16 से 30 जनवरी तक लगाने के बाद कर्मचारी ३१ को इस काम में जुट जाएंगे। इसको लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से गुरुवार को निर्देश आया। इस वक्त जिला में 2.5 लाख बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाने के लिए 2,80,000 डोज वैक्सीन आ चुकी है। अस्पतालों के डी-फ्रीजर और आईस लैंड रेफ्रिजरेटर अटे पड़े हैं। इस काम में स्वास्थ्य विभाग के 1000 से अधिक कर्मचारी लगना है। कोरोना के टीकाकरण के बाद अगले दिन से इस काम को करना स्वास्थ्य विभाग के लिए बड़ी चुनौती है।

31 जनवरी से 2 फरवरी तक चलेगा अभियान
जिले में इस बार पल्स पोलियो अभियान 31 जनवरी से 2 फरवरी 2021 के बीच होने जा रहा है। जिसमें पल्स पोलियो अभियान के तहत शून्य से पांच साल तक के बच्चों को दो बूंद जिंदगी की यानी पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। इसके लिए माइक्रो प्लान तैयार किया जा रहा है जिसके तहत टीकाकरण केंद्रों में ३१ जनवरी को बूथ पर और 1 व 2 फरवरी 2021 को घर-घर जाकर छूटे हुए बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी ताकि कोई भी बच्चा दवा पीने से वंचित न रहे।

पोलियो टीकाकरण के लिए 1020 बूथ तैयार
पल्स पोलियो अभियान को लेकर जीला टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर सुदामा चंद्राकर ने बताया इस बार जिले में 2.50 लाख से अधिक बच्चों को पोलियो का ओरल टीकाकरण के लिए 1,020 से अधिक बूथ बनाए जाएंगे। जिसमें प्रत्येक बूथ पर 4 सदस्यों की टीम रहेगी। जिले के 38 कोल्ड चैन पॉइंट में 2.80 लाख डोज वैक्सीन स्टोर कर लिए गए है।

तैयारी है पूरी
टीकाकरण अधिकारी, दुर्ग डॉक्टर सुदामा चंद्राकर ने बताया कि पल्स पोलियो अभियान के लिए स्वास्थ्य विभाग तैयार है। वैक्सीन पहले ही आ चुकी है। कोरोना वैक्सीन की वजह से इसकी तारीख में कुछ बदलाव किया गया है। अब ३१ को पल्स पोलियो का दो बूंद बच्चों को पिलाया जाएगा।

COVID-19
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned