बारिश की वजह से बीएसपी में आने वाले रेलवे के रेक को समय पर नहीं किया रवाना

रेलवे को देना होगा 1.5 लाख डेम्रेज चार्ज.

 

By: Abdul Salam

Published: 24 Jun 2020, 08:44 PM IST

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र में 21 से 23 जून 2020 के मध्य बारिश का असर कई जगह देखने को मिला। संयंत्र में आने वाले रॉ-मटीरियल व फिनिश्ड आयटम को भेजने के लिए रेलवे से आने वाले रेक को भी समय पर रवाना नहीं किया जा सका। जिसकी वजह से रेलवे को बतौर डेम्रेज चार्ज करीब 1,56,900 रुपए देना होगा। यह रकम और अधिक हो सकती थी, लेकिन जब बीएसपी समय से पहले रेक रवाना किया था, तब का डेम्रेज माइनस में था, जिसे भी इसमें एडजेस्ट किया गया है। अगर उस रकम को जोड़ लिया जाए, तो यह और अधिक हो जाता है।

बारिश की वजह से हुई दिक्कत
आस्ट्रेलियन कोल, आयरन ओर, लाइम स्टोन, डोलो माइट यह दूसरे जगह से भिलाई इस्पात संयंत्र में रेलवे के रेक से पहुंचता है। इसके साथ-साथ ट्रक से भी कुछ रॉ मटीरियल आते हैंं। बीएसपी में बारिश की वजह से रॉ मटीरियल को खाली करने में दिक्कत हुई। टिप्लर के आसपास पानी भर गया। इसी तरह से जहां रॉ मटीरियल खाली करते हैं वहां दिक्कत आ गई। इसकी वजह से समय पर रेक को खाली कर लौटाया नहीं जा सका।

रेलवे से रेक लेकर लाते हैं रॉ मटीरियल और ग्राहक को भेज रहे बीएसपी के उत्पाद
भिलाई इस्पात संयंत्र हर साल रेलवे से रॉ मटीरियल लाने व तैयार रेल, प्लेट, सरिया, वायर रॉड को ग्राहक तक पहुंचाने के लिए रेक किराए पर लेता है। रेक को लेने के बाद समय पर अगर लौटाया नहीं जाता है, तो रेलवे को बीएसपी डेम्रेज चार्ज देता है। एक बोगी को अनलोड करने या लोड करने में तय समय से अतिरिक्त समय लगता है, तो डेम्रेज चार्ज देना होता है। बीएसपी रेल, प्लेट, सरिया सप्लाई करता है। इसके लिए रेक भारतीय रेलवे से लिया जाता है। इसके अलावा रॉ मटीरियल को लाने भी रेक भाड़े पर रेलवे से लिया गया। आस्ट्रेलियन कोक विशाखापटनम बंदरगाह से बीएसपी में पहुंचता है। राजहरा माइंस से आयरन ओर लगातार आता है। माह में १५ दिन नंदिनी खदान से लाइम स्टोन पहुंचता है। हिर्री खदान से डोलोमाइट रेल मार्ग से ही लाया जाता है। भिलाई इस्पात संयंत्र के ओर हैंडलिंग प्लांट (ओएचपी) में रॉ मटीरियल रेलवे के रेक से अनलोड किया गया। इस दरमियान ही जब समय पर वेगन को खाली नहीं किया जाता है, तब देरी होने से रेलवे डेम्रेज चार्ज लेता है।

डेम्रेज चार्ज में आ रही है कमी
यह सही है कि बीएसपी समय से पहले रेक को रवाना कर रहा है, जिसके कारण कई बार माइनस में डेम्रेज चार्ज हो जाता है। जब डेम्रेज चार्ज लगता है, तब उस माइनस को उसमें से कम कर दिया जाता है। इस तरह से पिछले कुछ साल में डेम्रेज चार्ज 40 से 60 फीसदी तक कम हो गए हैं।

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned