scriptRecord of 8 years burnt in Nikum block | Durg निकुम ब्लॉक में 8 साल का रिकार्ड जलकर खाक | Patrika News

Durg निकुम ब्लॉक में 8 साल का रिकार्ड जलकर खाक

एनएचएम के खाते में क्या आया और गया,

भिलाई

Published: April 03, 2022 09:51:41 pm

भिलाई. एक चिंगारी ने निकुम के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन दफ्तर के सारे रिकार्ड को खाक कर दिया है। जिसमें सारे के सारे अहम दस्तावेज शामिल थे। आगजनी के बाद जहां एक ओर बड़ा नुकसान हुआ है। वहीं नए खर्च के रास्ते भी खुल गए हैं। घटना के बाद अब विभाग को नए सिरे से कम्प्यूटर से लेकर तमाम फर्नीचर भी नए खरीदने होंगे। भवन में नए वायरिंग और रंग-रोगन भी करना होगा। पुराने रिकार्ड जल जाने से अब तक हर साल किस मद में कितना खर्च किया जा रहा था, वह सबकुछ खत्म हो चुका है। जिससे दिक्कत भी होना तय है।

Durg निकुम ब्लॉक में 8 साल का रिकार्ड जलकर खाक
Durg निकुम ब्लॉक में 8 साल का रिकार्ड जलकर खाक

दफ्न हो गए सारे हिसाब
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र निकुम में शार्ट सर्किट की घटना की वजह से सारे हिसाब दफ्न हो गए हैं। जिसमें वित्तीय वर्ष 2014-15, 2015-16, 2016-17, 2017-18, 2018-19, 2019-20, 2020-21, 2021-22 के समस्त बिल ब्हाउचर, नोटशीट, कैशबुक, एडवांस रजिस्टर, फण्ड प्राप्ति रजिस्टर, फण्ड जारी रजिस्टर, स्टाक रजिस्टर, फिक्स सेट रजिस्टर, चेक जारी रजिस्टर, यूसी एसओई सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, उप स्वास्थ्य केंद्र, ग्राम स्वास्थ्य व स्वच्छता समिति जननी सुरक्षा योजना, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जीवनदीप समिति के संपूर्ण दस्तावेज इसमें शामिल हैं।

वाउचर्स भी जलकर हो गए खाक
आगजनी में वित्तीय वर्ष 2021-22 स्टाक रजिस्टर, 1,2,3 पर्मानेंट आर्टिकल रजिस्टर, वाइचर्स भी जलकर खाक हो चुके हैं। इसके साथ-साथ भौतिक वित्तीय वर्ष 2018-19, 2019-20, 2020-21 व 2021-22 का भौतिक रिपोर्ट (एचएमआईएस, एमडीआर रिपोर्ट, सीडीआर रिपोर्ट, हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर रिपोर्ट, मानवसंसाधन से संबंधित समस्त दस्तावेज (ज्वाईनिंग लेटर) प्रशिक्षण से संबंधित दस्तावेज समस्त राष्ट्रीय कार्यक्रम से संबंधित रिपोट व दस्तावेज के साथ-साथ प्रचार-प्रसार से जुड़ी सामग्री भी आग की जद में आकर खाक हो चुकी है।

नहीं बच पाए कम्प्यूटर
आगजनी में कम्प्यूटर, टेबल, चेयर, आलमारी, व कार्यालय में मौजूद अन्य सामान भी प्रभावित हुआ है। इसके अलावा प्रचार-प्रसार सामग्री में बैनर, पोस्टर, स्टीकर, बुजुर्गों के स्वास्थ्य स्लीप, ओपीडी पर्ची, पीएमएसएमए बोर्ड भी जल चुके हैं। जो सामान बच गए थे, वह आग बुझाने के दौरान उपयोग किए गए पानी से नष्ट हो चुके हैं।

उठ रहे सवाल
अब सवाल उठ रहे हैं कि आखिर जो खर्च कोरोनाकाल या उसके पहले और बाद में किए थे, उसके दस्तावेज किसी दूसरे दफ्तर में भी सही सलामत है या सिर्फ एक ही कॉपी था जो अब जलकर राख हो चुका है। विभाग ने कितने वाहन कहां लगाए, कितने दवा कहां बांटे, वैक्सीन व दूसरी जानकारी भी सिर्फ एक ही थी। यह सारे सवाल उठ रहे हैं।

बिजली गुल होकर आने के बाद लगी आग
डॉक्टर देवेंद्र बेलचंदन, बीएमओ, निकुम क्षेत्र में सुबह 7.30 बजे बिजली गुल हुई थी, इसके कुछ देर बाद बिजली आ गई। तब शार्ट सर्किट से आग लगी और सारे रिकार्ड उसके जद में आ गए। जिसकी सूचना चीफ मेडिकल हेल्थ ऑफिसर और गांव के सरपंच को दी गई।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: 16 बागी विधायक अगर फ्लोर टेस्ट में नहीं देंगे वोट तो क्या होगी तस्वीर, यहां जानें पूरा समीकरणMaharashtra Political Crisis: क्या उद्धव ठाकरे के इस फैसले ने बिगाड़ा सारा खेल! NCP की भूमिका पर भी उठ रहे है सवालMaharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज शाम 5 बजे होगी सुनवाईपहले खुलेआम कन्हैयालाल की नृशंस हत्या की धमकी, फिर सिर कलम कर दिया, आतंकियों की करतूतों से मेल खाता है तरीकानवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने कहा- 2/3 बहुमत है हमारे पासSecurity To Ambani Family: मुकेश अंबानी की सुरक्षा से जुड़े मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई त्रिपुरा HC के आदेश पर रोकजावेद पंप ने खोला राज, अटाला हिंसा में मौलाना और कई नेताओं के नाम आए सामने
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.