बिटिया दिवस पर तेज रफ्तार की कहर से उजड़ गया परिवार, 10 साल की बेटी की सिर कुचली लाश देखकर पिता को आया हार्ट अटैक

बिटिया दिवस पर तेज रफ्तार की कहर से उजड़ गया परिवार, 10 साल की बेटी की सिर कुचली लाश देखकर पिता को आया हार्ट अटैक
बिटिया दिवस पर तेज रफ्तार की कहर से उजड़ गया परिवार, बेटी की सिर कुचली लाश देखकर पिता को आया हार्ट अटैक

Dakshi Sahu | Updated: 23 Sep 2019, 04:31:58 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

कुम्हारी के पास मां के साथ स्कूटी पर बैठकर जा रही 10 साल की बेटी को तेज रफ्तार ट्रक ने कुचल दिया। मां और पांच साल का भाई गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

भिलाई. फोरलेन पर रविवार को सड़क हादसे में बेटी की मौत हो गई। मां और छोटा भाई गंभीर रूप से घायल हो गए। रविवार बेटियों के साथ ही बेटियों के माता-पिता के लिए विशेष दिन था। पूरी दुनिया बिटिया दिवस मना रही थी। इधर कुम्हारी के पास मां के साथ स्कूटी पर बैठकर जा रही 10 साल की बेटी को तेज रफ्तार ट्रक ने कुचल दिया। मां और पांच साल का भाई गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। (Road accident in Bhilai)

घटना रविवार को सुबह करीब 10.30 बजे की है। गैंग खोली वार्ड-12 कुम्हारी निवासी जी जया लक्ष्मी (45 वर्ष) बेटी जी विद्या (10 वर्ष) और बेटा विनायक राव (5 वर्ष) को स्कूटी में बैठाकर रायपुर जा रही थी। रायपुर भानपुरी में उसका मायका है। वह बिटिया दिवस पर बेटी व बेटे को उनके नाना से मिलवाने ले जा रही थी। तभी कुम्हारी चौक को पार करते समय दुर्ग से रायपुर की तरफ जा रहे ट्रक ने उनकी स्कूटी को ठोकर मार दिया।

घटना स्थल पर ही बेटी ने दम तोड़ दिया
ट्रक की ठोकर से स्कूटी सवार जया लक्ष्मी और बेटा विनायक राइट साइड गिरे, लेकिन जी विद्या लेफ्ट साइड में गिरी और ट्रक के पिछले चक्के के नीचे आ गई। ट्रक चालक उसके सिर को कुचलते हुए निकल गया। विद्या की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। घायल मां और बेटे को लोगों ने अस्पताल पहुंचाया गया। जहां दोनों का इलाज चल रहा है।

बिटिया दिवस पर तेज रफ्तार की कहर से उजड़ गया परिवार, बेटी की सिर कुचली लाश देखकर पिता को आया हार्ट अटैक

ट्रक चालक को दूसरे थाना में रखा गया था
ड्राइवर को दुर्घटना के बाद लोगों ने भागते हुए पकड़ लिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने ट्रक चालक को हिरासत में लिया और थाने ले गई। इस घटना से लोग आक्रोशित हो गए। लोगों के आक्रोश को देखते हुए ट्रक चालक को पुलिस ने दूसरे थाने में रखा। ट्रक को भी थाने में जब्त कर रखा गया है। ट्रक मुंबई से कोलकाता की ओर जा रहा था।

लोगों ने घंटे भर तक हइवे जाम कर दिया
बच्ची की मौत के बाद लोगों का गुस्सा फू ट पड़ा। लोग सड़क पर उतर गए। लगभग एक घंटे तक नेशनल हाइवे जाम कर दिया है। गुस्से में प्रदर्शन कर रहे लोगों को कहना था कि लम्बे समय से रम्बलर बनाने की मांग की जा रही थी, लेकिन एनएच और प्रशासन ने नहीं सुनी। आखिर यह हादसा हो गया।

एनएच के अफसर को बुलकर बनाया रम्बलर
घटना के बाद उग्र भीड़ ने चेतावनी दी कि रम्बलर बनने के बाद ही फोरलेन से हटेगे। मौैके पर मौजूद पुलिस अधिकारियों ने तत्काल एनएच के अधिकारी को फोनकर घटना स्थल पर बुलाया और फौरन रम्बलर बनवाया। लोगों का कहना था कि अधिकारी क्यों किसी हादसे का इंतजार करते हैं। यह कार्य पहले कर लिया जाता तो बेहतर होता।

अचेत पड़ी मां को घायल बेटा उठा रहा था
ट्रक की ठोकर से घायल जय लक्ष्मी किसी तरह उठी। जैसे ही बेटी पर नजर पड़ी वह बेहोश हो गई। बेटी का सिर कुचल कर धड़ से अलग हो गया था। बाकी हिस्सा सड़क पर पड़ा था। घायल पांच साल का बच्चा जोर-जोर से रो रहा था। मां का हाथ पकड़कर उठा रहा था। लोगों ने दोनों को उठाकर सामने निजी अस्पताल में भर्ती कराया दिया।
जी विद्या के पिता भास्कर राव हिराग्रुप में टेक्नीशियन है। वह घर पर ही था।

घटना का पता चलने पर तत्काल मौके पर पहुंचा। अपने जिगर के टुकड़े की कपड़े से बंधी लाश देखकर वह सदमे में आ गया। वह खड़े-खड़े फोरलेन पर गिर पड़ा। तत्काल उसे रायपुर के अस्पताल में भर्ती कराया। गया। जहां डॉक्टरों ने बताया कि उसे माइनर अटैक आ गया है। उसका इलाज चल रहा है। थाना प्रभारी कुम्हारी अवधेश यादव ने बताया कि जी सड़क दुर्घटना में एक बच्ची की मौत हो गई। आरोपी ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned