AIMS की प्रवेश परीक्षा देने से पहले सड़क पर हुआ कुछ ऐसा कि निकल गए छात्रों के आंसू, 40 मिनट तक बैठे रहे दिल थाम कर

AIMS की प्रवेश परीक्षा देने से पहले सड़क पर हुआ कुछ ऐसा कि निकल गए छात्रों के आंसू, 40 मिनट तक बैठे रहे दिल थाम कर

Dakshi Sahu | Updated: 27 May 2019, 11:38:55 AM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (एम्स) की प्रवेश परीक्षा रविवार को ली गई। इस परीक्षा के लिए भिलाई-3 के पार्थिवी कॉलेज को केंद्र बनाया गया था।

भिलाई . ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (एम्स) की प्रवेश परीक्षा रविवार को ली गई। इस परीक्षा के लिए भिलाई-3 के पार्थिवी कॉलेज को केंद्र बनाया गया था। भिलाई-दुर्ग से करीब 6 सौ विद्यार्थी इस परीक्षा में शामिल हुए हैं। परीक्षा देने जा रहे विद्यार्थियों की आंखों से उस वक्त आंसू निकलना शुरू हो गए जब परीक्षा के ठीक एक घंटा पहले पार्थिवी कॉलेज जाने वाले अंडर ब्रिज में एक हाइवा फंस गई।

एम्स की परीक्षा के लिए निकले छात्रों को कॉलेज में 2.45 बजे तक रिपोर्टिंग करना था। लेकिन 2 बजकर 15 मिनट तक बच्चे जाम में ही फंसे रहे। भाजपा के जिला संयोजक शारदा गुप्ता भी अपनी पुत्री के साथ इस जाम में फंसे रहे। उन्होंने पुलिस को अंडर ब्रिज में जाम लगने की सूचना दी गई, साथ ही जाम तुरंत दुरुस्त न होने से बच्चों की परीक्षा छूट जाने की बात समझाई गई। इस तरह पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और अंडर ब्रिज के बीच में फंसी हाइवा को बाहर निकला।

इसके बाद ही बच्चों को परीक्षा केंद्र तक पहुंचने के लिए रास्ता मिल सका। गनीमत रही कि यह जाम जल्द हटा कर लिया गया, वरना सैकड़ों बच्चों की सालभर की मेहनत बेकार हो जाती। हालांकि परीक्षा देकर निकलने के बाद बच्चों ने बताया कि यह पेपर सामान्य रहा, बायोलॉजी में आसान सवाल पूछे गए। ऑब्जेक्टिव प्रश्नों को भी छात्रों के स्टैंडर्ड के हिसाब से तैयार कर पूछा गया था।

जेइइ एडवांस की परीक्षा आज
देश की 23 आइआइटी की 11 हजार 279 सीटों के लिए सोमवार को जेइइ एडवांस की परीक्षा होगी। इसके लिए भिलाई में तीन केंद्र बनाए गए हैं। यह परीक्षा दो पालियों में होगी। सुबह 9 से 12 और दोपहर में 2 से 5 बजे तक इम्तेहान लिए जाएंगे। इस साल एडवांस परीक्षा आइआइटी रुड़की करा रहा है। विशेषज्ञों ने बताया परीक्षा के दौरान एडमिट कार्ड साथ ले जाना न भूलें। पहचान पत्र साथ रखना भी अनिवार्य है। छात्रों की जांच बायोमेट्रिक प्रणाली से की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned