बीएसपी से प्लेट के ग्राहक हो रहे राउरकेला शिफ्ट

बीएसपी के प्लेट मिल ने वित्त वर्ष 2018-19 में डिमांड पर महज पचास फीसदी उत्पादन किया, प्लेट मिल से उत्पादन मांग के मुताबिक नहीं हो रहा है।

By: Abdul Salam

Published: 03 Mar 2019, 09:58 PM IST

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र के पास प्लेट की मांग हमेशा बनी रहती है। वित्त वर्ष 2018-19 में करीब 1.10 लाख टन प्लेट की डिमांड थी। ब्लास्ट फर्नेस से उत्पादन उम्मीद से कम होने की वजह से प्लेट मिल से ५० फीसदी ही उत्पादन लिया जा सका है। इधर दूसरी ओर बीएसपी के ग्राहक अब प्लेट के लिए सेल के दूसरे प्लांट की ओर जाने लगे हैं।
सोलमा ग्रेड का प्लेट लेने जा रहे राउरकेला
बीएसपी से अब तक सोलमा ग्रेड का प्लेट जो 3.6 मीटर चौड़ा और 12 से 120 एमएम मोटा होता है, उसका उत्पादन लगातार किया जा रहा है। राउरकेला स्टील प्लांट में प्लेट मिल शुरू होने के बाद वहां भी यह प्लेट तैयार हो रही है। बीएसपी के ग्राहक धीरे-धीरे इस प्लेट को लेने के लिए राउरकेला शिफ्ट हो रहे हैं। वहीं ट्रेडर्स अब भी बीएसपी से यह प्लेट ले रहे हैं।
पुरानी हो गई है प्लेट मिल
बीएसपी की प्लेट मिल 29 मार्च 1983 में प्लेट मिल को शुरू की गई थी। अब इसकी उम्र करीब 36 साल हो चुकी है। इसकी उत्पादन क्षमता 9,50,000 टन प्रति वर्ष है। इसकी लंबाई जहां १०५६ मीटर है, वहीं चौड़ाई 256 मीटर है। इस मिल से युद्ध विमान वाहक पोत आइएनएस विक्रांत व आइएनएस समोरटा के लिए खास किस्म की प्लेट सप्लाइ कर चुकी है। स्वदेशी तकनीक से निर्मित विमान वाहक पोत आइएनएस विक्रांत के लिए बीएसपी ने डीएमआर-240 ए ग्रेड विशेष प्लेटों का निर्माण किया। बीएसपी और राउरकेला दोनों ही डीएमआर रोल कर रहे हैं।

पिछले साल भी किया था पचास फीसदी उत्पादन
बीएसपी के प्लेट मिल ने वित्त वर्ष 2017-18 में भी एक लाख टन प्लेट की डिमांड पर महज पचास फीसदी उत्पादन किया था। इस तरह से प्लेट मिल से उत्पादन मांग के मुताबिक नहीं हो रहा है। इसके पीछे बड़ी वजह ब्लास्ट फर्नेस से उत्पादन का कम होना है।

फैक्ट फाइल
बीएसपी में उत्पादित प्लेट की साइज
मोटाई : 8 से 120 मिली मीटर
चौड़ाई : 1500 से 3200 मिली मीटर
लंबाई : 4500 से 13000 मिली मीटर

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned