महारत्न कंपनी के कर्मचारी सेल मेडिक्लेम का भुगतान नहीं मिलने से परेशान

महारत्न कंपनी के कर्मचारी सेल मेडिक्लेम का भुगतान नहीं मिलने से परेशान
BHILAI

Abdul Salam | Publish: Jun, 20 2019 12:27:17 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

सेल मेडिक्लेम योजना के 1,25,000 सदस्य हैं। जिसमें करीब 40 फीसदी बीएसपी के पूर्व कर्मचारी हैं। इस वजह से सबसे अधिक क्लेम भी यहां का ही अटका है।

भिलाई. सेल मेडिक्लेम योजना के तहत प्रीमियम देने के बाद हॉस्पिटल में उपचार करवाने वाले बीएसपी के पूर्व कर्मचारी परेशान हैं। वे बार-बार सेक्टर-5 स्थित मेडिक्लेम के दफ्तर पहुंचकर क्लेम का भुगतान कब तक होगा पूछ रहे हैं। वहां से उनको लगातार निराशा हाथ लग रही है। मौजूद कम्प्यूटर ऑपरेटर उनको टका सा जवाब नहीं आया है, कहकर लौटा रहे हैं। सेल मेडिक्लेम योजना के 1,25,000 सदस्य हैं। जिसमें करीब ४० फीसदी बीएसपी के पूर्व कर्मचारी हैं। इस वजह से सबसे अधिक क्लेम भी यहां का ही अटका है।

6 माह से मार रहे चक्कर
बीएसपी के पूर्व कर्मियों ने बताया कि वे यहां करीब ६ माह से चक्कर काट रहे हैं। कम्प्यूटर में बैठे कर्मचारी बता रहे हैं कि यहां से क्लेम से संबंधित पूरा दस्तावेज भेज दिए हैं। वहां एक्सेप्ट भी कर लिए हैं। भुगतान कब होगा, यह वे नहीं बता सकते।

हर दिन आ रहे 40 प्रकरण
वर्तमान में भी हर दिन करीब 40 नए क्लेम के प्रकरण आ रहे हैं। इस तरह से क्लेम की संख्या लगातार बढ़ रही है। यहां पहले से ही 1000 से अधिक बीमाधारियों का करोड़ों का भुगतान होना है। वह अटका हुआ है, नए प्रकरण भी आते जा रहे हैं।

यहां हुई है चूक
सेल ने समय पर टेंडर कर नए कंपनी को सेल मेडिक्लेम का काम नहीं दिया। देर होता देख जो कंपनी इस कार्य को कर रही थी, उसे ही तीन माह और चलाने कहा गया। जिसके बाद से सेल और उक्त कंपनी के बीच कर्मचारी रहे हैं।

नवीनीकरण की राशि का कर चुके भुगतान
सेल के पूर्व कर्मचारियों ने सेल मेडिक्लेम के लिए नवीनीकरण के नाम पर राशि का भुगतान कर चुके हैं। इसके बाद भी उनके साथ प्रबंधन की मदद नजर नहीं आ रही है। वे इधर-उधर भटकते सुबह से दिख जाते हैं।

सेल के नाम पर लिए मेडिक्लेम स्कीम
पूर्व कर्मचारी एस देवांगन ने बताया कि सेल का नाम जुड़ा है, इस वजह से सेल मेडिक्लेम स्कीम को लिया। इसकी राशि समय पर जमा कर दिया जाता है। इसके बाद भी तीन माह पहले जो क्लेम के लिए दस्तावेज जमा किया था, उसके बिल का भुगतान अब तक नहीं हुआ है। इससे सेल का नाम भी खराब होता है। सेल नवीनीकरण के लिए समय पर राशि जमा करने की बात पूर्व कर्मियों को बार-बार याद दिलाने वाले बीएसपी के जनसंपर्क विभाग के पास भी यहां जो परेशानी हो रही है पूर्व कर्मियों को उसको लेकर कोई जवाब नहीं है।

पूर्व कर्मियों की ओर से सीटू नेता शांत कुमार ने कहा कि
भिलाई में मेडिक्लेम योजना पर जल्द कार्रवाई की जाए। सेल के पूर्व कर्मचारी खून पसीना बहाए आज रिटायर्ड होने के बाद अपने इलाज के लिए भटक रहे हैं। महारत्न कंपनी के लिए यह शर्मिंदगी की बात है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned