खेल-खेल में फिजिक्स पढ़ाने वाली सपना को मिलेगा राष्ट्रपति शिक्षक सम्मान, सरकारी स्कूल में बनाया स्मार्ट क्लास

भारत सरकार की ओर से जारी राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त करने वाले शिक्षकों की सूची में छत्तीसगढ़ से इकलौता नाम व्याख्याता सपना सोनी का है। (Presidential Teacher Award)

By: Dakshi Sahu

Updated: 24 Aug 2020, 11:14 AM IST

भिलाई. जेवरा सिरसा उच्चतर माध्यमिक शाला की व्याख्याता सपना सोनी ने सोचा भी नहीं था कि 21 साल पहले चॉक और ब्लेकबोर्ड से शुरू हुआ सफर स्मार्ट क्लास तक पहुंचेगा और विज्ञान की पढ़ाई को आसान बनाने की उनकी जिद उन्हें राष्ट्रपति पुरस्कार तक पहुंचाएगी। शनिवार को भारत सरकार की ओर से जारी राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त करने वाले शिक्षकों की सूची में छत्तीसगढ़ से इकलौता नाम व्याख्याता सपना सोनी का है। सपना को यह पुरस्कार उनके फिजिक्स के अध्यापन में दिए गए योगदान के लिए दिया जा रहा है। सपना बताती हैं कि 2012 में उनके जीवन में एक ऐसा मोड़ आया जब उन्हें लगा कि सरकारी स्कूल के बच्चों को सीबीएसई के छात्रों से टक्कर लेने कुछ अलग करना पड़ेगा और उस वक्त उनके दिमाग में स्मार्ट क्लास का कांसेप्ट आया। स्कूल में नाममात्र के फंड से कुछ संभव नहीं था, पर उन्होंने जनसहयोग से पैसे जुटाए और 2014 में ही स्कूल में स्मार्ट क्लास शुरू कर दी और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा।

एजुकेशन को जोड़ा रियल लाइफ से
सपना सोनी ने एजुकेशन को रियल लाइफ से जोडऩा शुरू किया। वे बताती हैं कि आरटीई लागू होने के बाद जब बच्चे आठवीं तक आसानी से पास होकर नवमीं में पहुंचे तो वे काफी कमजोर थे। वर्ष 2012 में पहला बैच बोर्ड एग्जाम में पहुंचा और उस वक्त विज्ञान का रिजल्ट सीधे 50 फीसदी तक आ पहुंचा। तभी उन्होंने सोचा कि केवल डाइग्राम और थ्यौरी से फिजिक्स को नहीं पढ़ाया जा सकता। तब उन्होंने फिजिक्स को रियल लाइफ से जोडऩा शुरू किया और बच्चों को फील्ड पर ले जाकर एजुकेशन दी। पहली बार उन्होंने दसवीं के लिए हिन्दी में ई-कंटेट तैयार किए। इसके लिए उन्होंने कंप्यूटर पर हिन्दी टाइप करना सीखा। खुद प्रेजेंटेशन तैयार कर उन्होंने स्मार्ट क्लास में सेमीनार के जरिए बच्चों को पढ़ाया तो छात्रों को भी यह पढ़ाई आसान लगी। बस क्या था धीरे-धीरे उनके लिए विज्ञान इतना आसान हो गया कि आज 8 साल बाद स्कूल में इस वर्ष बारहवीं का रिजल्ट 93 प्रतिशत और फिजिक्स का परिणाम 96 फीसदी रहा।

खेल-खेल में फिजिक्स पढ़ाने वाली सपना को मिलेगा राष्ट्रपति शिक्षक सम्मान, सरकारी स्कूल में बनाया स्मार्ट क्लास

2015 से पुरस्कार की कतार
शिक्षिका सपना सोनी अपने नवाचार से एक साल में ही शिक्षा विभाग की निगाह में आई और 2015 में उन्हें जिला प्रशासन ने सर्वश्रेष्ठ शिक्षक पुरस्कार से नवाजा। 2016 में ही उन्हें राज्यपाल से बेस्ट टीचर का सम्मान मिला और 2019 के लिए उन्हें राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए चुना गया है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned