scriptSavita, the first woman president of Bhilai Steel Plant Union CITU | लोहे के कारखाने में महिलाओं को हैरत भरी नजरों से देखते थे पुरुष सहकर्मी, आज उसी BSP के हजारों वर्करों की आवाज बुलंद करती है सविता | Patrika News

लोहे के कारखाने में महिलाओं को हैरत भरी नजरों से देखते थे पुरुष सहकर्मी, आज उसी BSP के हजारों वर्करों की आवाज बुलंद करती है सविता

सविता मालवीय भिलाई सीटू (CITU) की पहली महिला अध्यक्ष बनकर संयंत्र और माइंस में कार्यरत 16 हजार नियमित और लगभग 25 हजार ठेक श्रमिकों की आवाज बुलंद कर रही है।

भिलाई

Updated: December 05, 2021 01:41:20 pm

दाक्षी साहू राव@भिलाई. एशिया के सबसे बड़े स्टील प्लांट में से एक भिलाई इस्पात संयंत्र (Bhilai steel plant) में एक वक्त ऐसा भी था जब महिला कर्मियों को कोई भी डिपार्टमेंट लेने तैयार नहीं था। ऐसे समय में हिंदुस्तान स्टील एम्पलाइज यूनियन (सीटू) के साथ जुड़कर 48 वर्षीय सविता मालवीय ने न सिर्फ अपने हक की लड़ाई लड़ी बल्कि उन महिलाओं के लिए भी आवाज उठाया जो कार्य स्थल पर भेदभाव की शिकार हो रही थीं। भिलाई स्टील प्लांट की स्थापना के बाद श्रमिक और कार्मिकों की हितों की रक्षा के लिए हिंदुस्तान स्टील एम्पलाइज यूनियन (सीटू) का गठन किया गया। बीएसपी के 65 साल के इतिहास में यह पहली बार है जब किसी श्रमिक संगठन की अध्यक्ष महिला निर्वाचित हुई है। सविता मालवीय भिलाई सीटू की पहली महिला अध्यक्ष बनकर संयंत्र और माइंस में कार्यरत 16 हजार नियमित और लगभग 25 हजार ठेक श्रमिकों की आवाज बुलंद कर रही है।
लोहे के कारखाने में महिलाओं को हैरत भरी नजरों से देखते थे पुरुष सहकर्मी, आज उसी BSP के हजारों वर्करों की आवाज बुलंद करती है सविता
लोहे के कारखाने में महिलाओं को हैरत भरी नजरों से देखते थे पुरुष सहकर्मी, आज उसी BSP के हजारों वर्करों की आवाज बुलंद करती है सविता
हैरत भरी नजरों से देखते थे सहकर्मी
भिलाई स्टील प्लांट के टीएनडी डिपार्टमेंट में चार्जमैन के रूप में कार्यरत सविता मालवीय ने बताया कि जब उन्होंने 1996 में नौकरी ज्वाइन की उस वक्त प्लांट में महिला कर्मियों की संख्या गिनी-चुनी थी। पॉलीटेक्निक के बाद डिप्लोमा इंजीनियरिंग करने वाली लड़कियों को उस समय बीएसपी में नौकरी नहीं दी जाती थी। प्रबंधन की ऐसी सोच थी कि प्लांट के अंदर महिला कर्मी हार्ड वर्क नहीं कर पाएंगीं। तब हमारी बैच ने इस भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाया और चार साल तक प्रबंधन से लड़ाई लड़ी। तब जाकर हमें बीएसपी में नौकरी मिली। ये संघर्ष यहीं खत्म नहीं हुआ। नौकरी लगने के बाद भी प्लांट के अंदर कोई भी डिपार्टमेंट मुझे और मेरे साथ दो और लड़कियों को लेने के लिए तैयार नहीं था। छह महीने तक हमें डिपार्टमेंट ही अलॉट नहीं हुआ। कार्य स्थल में भेदभाव देखकर फिर आवाज उठाई तब जाकर हमें जिम्मेदारी दी गई। उस वक्त सहकर्मी पुरुष साथी हमें हैरत भरी नजरों से देखते थे कि कैसे महिला होकर हम प्लांट में नौकरी करने आ गई हैं।
लोहे के कारखाने में महिलाओं को हैरत भरी नजरों से देखते थे पुरुष सहकर्मी, आज उसी BSP के हजारों वर्करों की आवाज बुलंद करती है सवितासाबित कर रही हैं महिलाएं अपनी काबिलियत
एक लंबे संघर्ष के बाद हिंदुस्तान स्टील एम्पलाइज यूनियन (सीटू) भिलाई की साल 2019 में पहली महिला अध्यक्ष चुनी गई सविता कहती हैं कि भिलाई स्टील प्लांट अपने फौलादी लोहे के लिए पूरे विश्व में पहचाना जाता है। समय के साथ अब यहां लोगों की सोच भी बदल रही है। प्लांट के अंदर चाहे वो महिला नियमित कर्मी या हो फिर ठेका श्रमिक, पुरुषों से कंधा से कंधा मिलाकर उत्पादन में कीर्तिमान रच रहीं हैं।
परिवार, जॉब और यूनियन के बीच तालमेल बैठाने में होती थी थोड़ी दिक्कत

सविता ने बताया कि शुरुआत में जब उन्होंने यूनियन ज्वाइन किया उस वक्त परिवार, जॉब और यूनियन की गतिविधियों के बीच तालमेल बैठाने में थोड़ी दिक्कत होती थी। श्रमिकों और खासकर महिला कर्मियों की समस्याएं देखकर मन में दृढ़ इच्छाशक्ति जागी कुछ कर दिखाने की। इसलिए अब बिना रूके हर किसी के समस्या को सुलझाने प्रबंधन से भिड़ जाती हूं। लोहे के कारखाने में काम करते हुए मन से ये भेद मिट सा गया है कि मैं एक लड़की हूं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

जापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातज्ञानवापी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई एक और याचिका, जानिए क्या की गई मांगऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में भीषण सड़क हादसा, पूर्णिया में ट्रक पलटने से 8 लोगों की मौतश्रीनगर पुलिस ने लश्कर के 2 आतंकवादियों को किया गिरफ्तार, भारी संख्या में हथियार बरामदGood News on Inflation: महंगाई पर चौकन्नी हुई मोदी सरकार, पहले बढ़ाई महंगाई, अब करेगी महंगाई से लड़ाईकोरोना वायरस का नहीं टला है खतरा, डेल्टा-ओमिक्रॉन के बाद अब दो नए सब वैरिएंट की दस्तक से बढ़ी चिंता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.