फूफा ने किया 18 साल की भतीजी को प्रेग्नेंट, माँ-बाप ने छुपाया, हिम्मत कर थाने पहुंची फिर...

Dakshi Sahu

Publish: Dec, 07 2017 12:02:13 (IST) | Updated: Dec, 07 2017 01:22:00 (IST)

Supela Police Station, Radhika Nagar, Bhilai, Chhattisgarh, India
फूफा ने किया 18 साल की भतीजी को प्रेग्नेंट, माँ-बाप ने छुपाया, हिम्मत कर थाने पहुंची फिर...

लोकलाज की भय से माता-पिता ने पुलिस तक मामला नहीं पहुंचाया। पीडि़ता ने पुलिस को बताया है कि आरोपी ने पूजा कमरे में बुलाकर अनाचार किया। उ

भिलाई. रिश्ते को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। 21 वर्षीय युवती की उसके फूफा ने अस्मत लूट ली।घटना वर्ष 2014 की है। लोकलाज के भय से युवती ने मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं करा रही थी। वहीं पीडि़ता ने पुलिस को बयान दिया है कि मामला रफा-दफा करने के लिए फूफा ने रुपए देने का ऑफर किया था। इस मामले में सुपेला पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध धारा ३७६ के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। एफआईआर होने के बाद से आरोपी फरार है।

पीडि़ता ने की फूफा के खिलाफ शिकायत
सुपेला थाना प्रभारी अमित बेरिया ने बताया कि पीडि़ता ने अपने फूफा के खिलाफ शिकायत की। उसने लिखित शिकायत में बताया है कि तीन साल पहले उसके मां और पिता किसी काम से गांव गए थे। वह घर पर अकेली थी। इसका फायदा उठाकर फूफा ने उसके साथ अनाचर किया। माता-पिता आए तब उसने आप बीती बताई।

कमरे में बुलाकर किया अनाचार
लोकलाज की भय से माता-पिता ने पुलिस तक मामला नहीं पहुंचाया। पीडि़ता ने पुलिस को बताया है कि आरोपी ने पूजा कमरे में बुलाकर अनाचार किया। उस वक्त वह 18 साल की थी। गर्भ ठहरने पर फूफा ने जान से मारने की धमकी देते हुए दवाइयां खिला दी थी। धमकी मिलने की वजह से तीन साल से मामले को उजागर नहीं किया।

ऐसे हुआ मामले का खुलासा
पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि जब वह २०१६ में एक स्किल सेंटर में खाना बनाने की विधि सीखने गई। जहां खाना बनाने का प्रशिक्षण देने वाले व्यक्ति ने परेशानी को देखते हुए कारण पूछा। परेशानी जानने के बाद उसकी पत्नी ने घर बुलाया। तब अपनी पीड़ा उन्हें बताई। इस मामले को दबाने के लिए फूफा ने पैसे का भी ऑफर किया।

दर्ज किया अनाचार का मामला
सुपेला टीआई अमित बेरिया ने बताया कि पीडि़ता की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ अनाचार का मामला दर्ज हुआ है। जांच में बाद धाराएं बढ़ सकती है। टीआई सुपेला थाना अमित बोरिया ने बताया कि सामने आने वाले तथ्यों के आधार पर मामले में धारा बढ़ाई जा सकती है।

 

पता की लापरवाही से मासूम बच्ची की गई जान
ट्रेक्टर बंदकर उसमें चाबी लगी छोडऩा एक पिता को भारी पड़ गया। इस लापरवाही से उसकी २ वर्षीय बच्ची की जान चली गई। घटना बुधवार को दोपहर २ बजे की ग्राम गोता की है। पुष्कर लाल मनहरे घर के सामने ट्रैक्टर के पीछे नागर लगा रहा था। चालक सीट पर बैठा उसका तीन वर्षीय बेटा चाबी को चालू कर दिया।

जिससे पिता के पास खड़ी हिमानी मनहरे (२) पहिए के जद में आ गई। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। नंदिनी पुलिस ने सरपंच अश्वनी कुमार की शिकायत पर पुष्कर लाल मनहरे के खिलाफ धारा २७९, ३०४ ए के तहत जुर्म दर्ज किया है। नंदिनी थाना प्रभारी एलएस कश्यप ने बताया कि पुष्कर लाल मनहरे रिवर्स गियर में ट्रैक्टर को बंद कर घर के सामने खड़ा कर दिया था।

बड़ा बेटा एस कुमार मनहरे (३) को ट्रैक्टर सीट पर बैठा दिया, लेकिन चाबी को ट्रैक्टर से नहीं निकाला। बेटी हिमानी पिता के साथ में खड़ी थी। इधर एस कुमार ने ट्रैक्टर को चाबी से चालू कर दिया। ट्रैक्टर पीछे की ओर चल पड़ा। हिमानी को कुचल दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned