दुर्ग विश्वविद्यालय की तरह अब साइंस कॉलेज में भी रजिस्ट्रार, वित्त और प्रशासन संभालेगा, नियुक्ति हुई

दुर्ग विश्वविद्यालय की तरह अब साइंस कॉलेज में भी रजिस्ट्रार, वित्त और प्रशासन संभालेगा, नियुक्ति हुई

Mohammed Javed | Publish: Jul, 13 2018 03:48:27 PM (IST) Bhilai, Chhattisgarh, India

पत्रिका ने सबसे पहले प्रकाशित की खबर, पांच साल से खाली था रजिस्ट्रार का पद।

 

भिलाई . जिले के सबसे बड़े शैक्षणिक संस्थान साइंस कॉलेज का वित्त और प्रशासनिक कामकाज अब रजिस्ट्रार के हाथों में होगा। उच्च शिक्षा विभाग ने करीब ७ साल के बाद रजिस्ट्रार के पद पर नियुक्ति कर दी है। यह जिम्मेदारी आशुतोष साव को सौंपी गई है। यह क्लास-२ अधिकारी का पद होगा, जिसके तहत उन्हें वित्तीय अधिकारों से जुड़े मामले देखने होंगे। वे प्राचार्य डॉ. एसके राजपूत को रिपोर्ट करेंगे। साइंस कॉलेज के साथ-साथ शासकीय दिग्विजय कॉलेज में भी रजिस्ट्रार नियुक्त कर दिया गया है। यहां पर दीपक कुमार परगानिहा की नियुक्ति हुई है। साइंस कॉलेज के नए रजिस्ट्रार साव ने ज्वॉइनिंग ले ली है। फिलहाल वे कामकाज का जायजा ले रहे हैं।

एक हफ्ते में सौर ऊर्जा से रोशन होगा कॉलेज
साइंस कॉलेज आने वाले हफ्ते तक सौर ऊर्जा से रोशन होने लगेगा। छत्तीसगढ़ स्टेट रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (क्रेडा) ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। क्रेडा से सौर ऊर्जा प्लेट्स और जरूरी उपकरण कॉलेज पहुंचा दिए हैं। अब कुछ ही दिनों में इसे इंस्टॉल करने का काम शुरू होगा। कॉलेज प्रशासन के मुताबिक यहां १० किलो वॉट ऊर्जा का प्लांट लगाया जा रहा है। इससे कॉलेज के काफी उपकरण चलाए जा सकेंगे। इस तरह बिजली के बिल में कमी करने की योजना बनाई गई है। फिलहाल साइंस कॉलेज हर माह लाखों रुपए की बिजली की खपत करता है, जिससे कुछ हद तक राहत मिल जाएगी। यह प्लांट लगाने में ३५ लाख का खर्चा आएगा।

साइंस कॉलेज के प्राचार्य डॉ. एसके राजपूत ने बताया कि
शासन ने कॉलेज के लिए रजिस्ट्रार के पद पर नियुक्ति कर दी है। आशुतोष साव ने पदभार ले लिया है। अब वही वित्त का कामकाज संभालेंगे। इसके अलावा क्रेडा ने सौर ऊर्जा का प्लांट लगाने की तैयारी शुरू कर दी है। एक हफ्ते में इंस्टालेशन होने लगेगा।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned