scriptSignal overshoot cases increased in railway zone | Bhilai - रेलवे जोन में बढ़े सिग्नल ओवरशूट के मामले | Patrika News

Bhilai - रेलवे जोन में बढ़े सिग्नल ओवरशूट के मामले

नए वैगन पर यूनियन नेता उठा रहे सवाल, आरडीएसओ कर रही जांच,

भिलाई

Published: May 11, 2022 11:05:04 pm

भिलाई. रेलवे सिग्नल ओवरशूट के मामले पिछले एक साल में बढ़े हैं, पायलट इसको लेकर अलग-अलग वजह सामने रखते आए हैं। इस वक्त सबसे अधिक मामले पूरे देशभर में रेलवे व निजी कंपनी के वेगन से जुड़े हैं। जिसकी वजह से पाटलटों की नौकरियों पर तलवार लटके रहती है। पिछले वित्त वर्ष में बिलासपुर जोन में सिग्नल ओवरशूट के करीब दर्जनभर मामले प्रकाश में आए हैं। यूनियन नेताओं का तर्क है कि इसके लिए जरूरी है सबसे पहले घटना की वजह और हालात की जांच हो। इसके बाद पायलटों पर कार्रवाई की बात हो।

Bhilai - रेलवे जोन में बढ़े सिग्नल ओवरशूट के मामले
Bhilai - रेलवे जोन में बढ़े सिग्नल ओवरशूट के मामले

एमरजेंसी ब्रेक से 800 मीटर में खड़ी होती थी ट्रेन
पायलटों का कहना है कि जब वे मालगाड़ी में एमरजेंसी ब्रेक लगाते थे, तब 800 मीटर में ट्रेन खड़ी हो जाती थी। अब एमरजेंसी ब्रेक लगाने के बाद भी कम से कम दो किलोमीटर आगे तक चली जाती है। जिसकी वजह से तमाम कोशिश के बाद भी सिग्नल ओवरशूट के मामले कम नहीं हो रहे हैं।

नए रेक में आ रही दिक्कत
निजी कंपनी और रेलवे के नए वेगन में यह दिक्कत पायलट महसूस कर रहे हैं। रेलवे के नए वेगन बीएमबीएस में यह दिक्कत सामने आ रही है।

क्या है बोगी माउंटेड ब्रेक सिस्टम
भारतीय रेलवे में माल ढुलाई के लिए नया बोगी माउंटेड ब्रेक सिस्टम शुरू किए। जिससे स्टॉक के रख-रखाव और कम वजन को कम किया जा सके। बीएमबीएस में, ब्रेक सिलेंडर स्वचालित दो-चरण ब्रेकिंग वाला सिस्टम है जो ब्रेक बीम के समानांतर घुड़सवार होता है और बेल क्रैंक के माध्यम से बलों को स्थानांतरित करता है। बीएमबीएस को सिंगल पाइप-ट्विन पाइप ग्रेजुएटेड रिलीज एयर ब्रेक ब्रेकिंग के लिए डिजाइन किया गया है।

रेलवे की टीम कर रही जांच
कटनी-जबलपुर में भी इस तरह की घटना प्रकाश में आने के बाद रेलवे ने नए वेगन की जांच करना शुरू किया है। यहां अनुसंधान अभिकल्प व मानक संगठन (आरडीएसओ) की टीम जांच करने में जुटी है।

ढलान में सिग्नल किया पार
रायगढ़ के जामगांव में पायलट ढलान में मालगाड़ी लेकर जा रहा था, एमरजेंसी ब्रेक लगाना शुरू किया, लेकिन जब इसके बाद भी ट्रेन आगे बढ़ते जा रही थी, तब उसने स्टेशन मास्टर को फोन पर बताया कि ट्रेन एमरजेंसी ब्रेक लगाने के बाद भी बढ़ रही है। यूनियन नेताओं का कहना है कि इससे साफ है कि चालक अपनी ओर से कोशिश कर रहा था। उसकी ओर से कोई लापरवाही नहीं हुई। इसके बाद भी सिग्नल ओवरशूट हुआ।

चालक कोशिश करता रहा
बिलासपुर के तारबहार के समीप भी चालक कोशिश करता रहा, स्टेशन मास्टर को सूचना दिया और मालगाड़ी सिग्नल ओवरशूट करके निकल गई। पायलटों का कहना है कि इससे साफ है कि चालक प्रयास कर रहा है, लेकिन नए वेगन को दो पाइप की जगह एक पाइप के उपयोग की वजह से ट्रेन जगह पर नहीं रुक रही है।

शीर्ष नेतृत्व से कर रहे हैं पत्रचार
जयशंकर शर्मा, मंडल सचिव, एलारसा, रायपुर मंडल रेलवे ने बताया कि सिग्नल ओवरशूड की वजह क्या है पहले उसकी जांच होनी चाहिए। इसके बाद पायलट पर कार्रवाई। नए बीएमबीएस बोगी में भी किस तरह की दिक्कत है यह जांच का विषय है। इस मामले में कटनी में आरडीएसओ की टीम जांच कर रही है।

ओवरशूट मामले में चल रही है जांच
आर सुदर्शन, सीनियर डीसीएम, रायपुर मंडल ने बताया कि सिग्नल ओवरशूट का मामला जांच में है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही उस पर कुछ कहा जा सकता है। ओवरशूट की घटना की अलग-अलग वजह होती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

BJP राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: PM नरेंद्र मोदी ने दिया 'जीत का मंत्र', जानें प्रधानमंत्री के संबोधन की बड़ी बातेंबिहार में बारिश व वज्रपात से 37 लोगों की मौत, जानिए बिहार में क्यों गिरती है इतनी आकाशीय बिजली?Pegasys Spyware Case: सुप्रीम कोर्ट ने जांच समिति का कार्यकाल 4 हफ्ते बढ़ाया, अब जुलाई में होगी सुनवाईRaj Thackeray Ayodhya Visit: राज ठाकरे की अयोध्या यात्रा स्थगित, पांच जून को रामलला का दर्शन करने वाले थे मनसे प्रमुखलालू के ठिकानों पर CBI Raid; सामने आई RJD की पहली प्रतिक्रिया, मात्र 5 शब्द में पूरे सिस्टम को लपेटाअनिल बैजल के इस्तीफे के बाद कौन होगा दिल्ली का उपराज्यपाल? चर्चा में हैं ये 5 नामRoad Rage Case: नवजोत सिंह सिद्धू ने सरेंडर के लिए कोर्ट से मांगा वक्त, खराब सेहत को बताया कारणबेंगलुरू हवाईअड्डे को बम से उड़ाने की धमकी, अधिकारियों ने शुरू की जांच
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.