राज्य स्तरीय वॉलीबॉल स्पर्धा में खेल मंत्री के जिले की टीम ही गायब, पढ़ें खबर

राज्य स्तरीय वॉलीबॉल स्पर्धा में खेल मंत्री के जिले की टीम ही गायब, पढ़ें खबर

Satyanarayan Shukla | Publish: Feb, 15 2018 10:42:44 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 10:43:55 PM (IST) Bhilai, Chhattisgarh, India

राज्य स्तरीय वॉलीबॉल के मुकाबले में खेलमंत्री भैया लाल रजवाड़े के गृह जिला कोरिया के ही बच्चे शामिल नहीं हुए।

भिलाई. ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को निखारने हो रहे खेल एवं युवा कल्याण विभाग के राज्य स्तरीय वॉलीबॉल के मुकाबले में खेलमंत्री भैया लाल रजवाड़े के गृह जिला कोरिया के ही बच्चे शामिल नहीं हुए। राज्यभर के 27 जिले में से सिर्फ 19 टीम ही इस स्पर्धा में हिस्सा ले रही हैं। खासकर आदिवासी अंचल की टीमें कम ही पहुंची हैं।

प्रतियोगिता के आगे कोई राष्ट्रीय स्पर्धा नहीं

विभाग के लोगों का कहना है कि इस राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के आगे कोई राष्ट्रीय स्पर्धा नहीं होने की वजह से कई टीमों ने इसमें रूचि नहीं दिखाई। खेल विभाग दुर्ग ने प्रदेशभर से आने वाली टीम के लिए 6 सामाजिक भवनों में व्यवस्था कर रखी थी, लेकिन यह भवन आधे से ज्यादा खाली है। सहायक संचालक ए एक्का ने बताया कि पहले पता होता तो वे कम भवन ही रखते। प्रतियोगिता में तीसरे दिन लीग मैच के साथ क्वार्टर फाइनल के मुकाबले हुए। जिसमें दुर्ग की बालिका टीम क्वार्टर फाइलन तक ही पहुंच पाई। प्रतियोगिता के चौथे दिन शुक्रवार को सुबह सेमीफाइनल और शाम को फाइनल के मुकाबले होंगे।

यह जिले नहीं हुए शामिल

प्रतियोगिता में राज्य के 9 जिले की टीमें शामिल नहीं हुई उनमें धमतरी, बस्तर, कांकेर, बालोद, बलरामपुर, कोरिया, सुकमा, जशपुर और कोंडागांव शामिल हैं। खेल अधिकारी की मानें तो प्रदेशभर से आने वाली टीम के लिए उन्होंने भिलाई के सामाजिक भवनों को पहले ही बुक कर लिया था तब किसी भी टीम ने अपने नहीं आने की सूचना नहीं दी। वहीं ओपनिंग सेमेरनी में पता चला कि 9 टीम नहीं पहुंची।

अगले पेज में भी पढ़ें खबर

 

Prev Page 1 of 2 Next

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned