इस जिले के मवेशियों को अब चारे-पानी के लिए भटकना नहीं पड़ेगा

इस जिले के मवेशियों को अब चारे-पानी के लिए भटकना नहीं पड़ेगा

Satyanarayan Shukla | Publish: May, 18 2019 08:00:00 AM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ राज्य सरकार की महती योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी के अंतर्गत पशु चिकित्सा विभाग अब जल्द ही जिले के हर गांव में आदर्श गौठान बनाएगा। यह गौठान ऐसा होगा कि पशुओं के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी व पौष्टिक चारा उपलब्ध रहेगा।

बालोद@Patrika. छत्तीसगढ़ राज्य सरकार की महती योजना नरवा, गरवा, घुरवा और बाड़ी के अंतर्गत पशु चिकित्सा विभाग अब जल्द ही जिले के हर गांव में आदर्श गौठान बनाएगा। यह गौठान ऐसा होगा कि पशुओं के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी व पौष्टिक चारा उपलब्ध रहेगा। योजना के क्रियान्वयन की तैयारी पशु चिकित्सा विभाग ने शुरू कर दी है। विभाग ने जिले के 704 गांवों में लगभग एक हजार गौठान बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। विभाग की मानें तो इस योजना के तहत आने वाले दिनों में जिले के हर गांव में आदर्श गौठान बनेगा।

गौठान के लिए क्षेत्रफल के अनुसार बजट
जिले के सभी गांवों में गौठान के क्षेत्रफल के मुताबिक राशि खर्च की जाएगी। जिस गांव में बड़ी जगह होगी वहां चारा के लिए भी आयोग से जगह आरक्षित की गई है। विभाग पशुओं के लिए छोटा और सर्व सुविधायुक्त गौठान निर्माण के लिए 17 लाख खर्च करेगा। वहीं बड़े गौठान के लिए क्षेत्रफल के अनुसार ज्यादा बजट खर्च किया गया।

चारे के लिए नेपियर व मक्का की खेती
शासन की ओर से गौठान में पशुओं के लिए बिजली पानी के साथ चारे की भी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। साथ ही निगरानी के लिए ग्राम सरपंच सहित ग्राम के प्रमुख लोगों की टीम भी बनाई गई है। गौठान में पेयजल और पशुओं को नहलाने के लिए हैंडपंप खनन भी किया जाएगा। चारागाह के लिए हर गांव में अलग से 5 एकड़ की जमीन का चिन्हांकन किया गया है। जहां मवेशियों के लिए अलग से घास उगाई जाएगी। इसी घास का उपयोग मवेशियों के चारे के लिए किया जाएगा। गौठान में पशुओं के इलाज की सुविधा भी रहेगी।

गौठान निर्माण जारी
आरएस मौर्य, उपसंचालक पशु चिकित्सा विभाग ने बताया कि इस योजना के तहत अभी कई जगह गौठान निर्माण किया जा रहा है। आगे युद्धस्तर पर काम किया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned