भिलाई में रिटायर्ड आर्मी मेन पर घर में घुसे चोरों ने कर दिया जानलेवा हमला, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

कोहका सुंदर नगर निवासी सेवानिवृत्त आर्मी मेन लक्ष्मी नारायण कुर्मी के घर में सोमवार अल सुबह दो चोर घुस गए। लक्ष्मी नारायण को उसकी आहट हुई। बाहर निकलकर देखा तो दो युवक भाग रहे थे।

By: Dakshi Sahu

Published: 15 Sep 2020, 02:02 PM IST

भिलाई. कोहका सुंदर नगर निवासी सेवानिवृत्त आर्मी मेन लक्ष्मी नारायण कुर्मी के घर में सोमवार अल सुबह दो चोर घुस गए। लक्ष्मी नारायण को उसकी आहट हुई। बाहर निकलकर देखा तो दो युवक भाग रहे थे। आर्मी मेन ने एक को दौड़कर दबोच लिया लेकिन दूसरे बदमाश ने लौटकर चाकू से तीन से चार बार जानलेवा हमला कर दिया। घायल जवान को पंडित जवाहर लाल नेहरु चिकित्सालय एवं अनुसंधान केन्द्र में भर्ती कराया गया है। इधर पुलिस आरोपियों के खिलाफ धारा 324, 380, 458 के तहत प्रकरण दर्ज कर खोजबीन कर रही है।

स्मृतिनगर चौकी प्रभारी एचएन सिंह ने बताया कि घटना सोमवार को सुबह 4 बजे की है। कोहका सड़क-35, सुंदर नगर के लक्ष्मी नारायण कुर्मी ने शिकायत की है कि वे आर्मी से सेनानिवृत्त हुए और बीएसपी में ड्यूटी करते है। बीएसपी फस्र्ट शिफ्ट की ड्यूटी के लिए सुबह उठे। उन्हें आहट हुई कि कोई घर में घुसा है। बाहर निकलकर देखा तो दो युवक दरवाजे के अंदर खड़े थे। लक्ष्मी को देखते ही दोनों भागे, लेकिन दौड़कर एक बदमाश को पकड़ लिया। दूसरा बदमाश जेब से चाकू निकाला और लक्ष्मी के पेट में तीन -चार बार घोंप दिया और मौके से भागने में कामयाब हो गए। परिजन घायल लक्ष्मी नारायण को सेक्टर-9 हाॉस्पिटल ले गए। जहां उपचार चल रहा है।

घर के अंदर ऐसे घुसे चोर
चोरों ने वारदात को अंजाम देने पहले मकान की रैकी की। लक्ष्मी नारायण के घर अल सुबह पहुंचे। दीवार फांदकर अंदर घुसे। इसके बाद बांस की डंडी से बैठक में रखी घर की चाबी को खींचकर निकाला। बाहर का ताला खोला और अंदर घुस गए। चोरी करने की तैयारी में थे। वारदात को अंजाम देते तब तक लक्ष्मी को बदमाशों की घुसने की आहट लग गई थी। पुलिस ने मौके से एक चाकू और बांस की डंडी को जब्त कर लिया है। चाकू में बाल लगा था। उसमें खून की गंध थी। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned