Covid-19 : लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंस तोड़ा तो अलार्म बजा देगी यह हाईटेक कैप

देशभर में कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की सीख दी जा रही है, लेकिन लोग है कि मानने तैयार ही नहीं है। ऐसे में अब लोग चाहकर भी सोशल डिस्टेंस को नहीं तोड़ पाएंगे।

By: Satya Narayan Shukla

Published: 23 Apr 2020, 11:53 PM IST

भिलाई@Patrika. देशभर में कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की सीख दी जा रही है, लेकिन लोग है कि मानने तैयार ही नहीं है। ऐसे में अब लोग चाहकर भी सोशल डिस्टेंस को नहीं तोड़ पाएंगे। बीआईटी दुर्ग में ईटीएंडटी विषय से इंजीनियरिंग कर रही 6वें सेमेस्टर की छात्रा आकांक्षा श्रीवास्तव ने ऐसी एक कैप तैयार की है, जिसे पहनकर आप खुद ब खुद सोशल डिस्टेंस का पालन करने लग जाएंगे। इस कैप को सिर पर लगाने के बाद जैसे ही कोई व्यक्ति एक मीटर के दायरे में आएगा कैप में अलार्म बजना शुरू हो जाएगा। यह अलार्म बजना तब तक बंद नहीं होगा जब तक कि वो व्यक्ति आपके साथ डिस्टेंस मेंटेन नहीं कर लेता।

दो दिनों में तैयार कर दिया डिवाइस
आकांक्षा ने बताया कि लॉकडाउन में वह अपने पापा के साथ बैठकर बात कर रही थी, तभी बातों-बातों में इसका आइडिया मिला। पापा योगेश कुमार एक सरकारी कर्मचारी है। तकनीक के बारे में उनको ज्यादा नहीं पता, लेकिन फिर भी उन्होंने बेटी के इस आइडिया पर मदद की। महज दो दिनों में ही इस डिवाइस के हाईवेयर के साथ सॉफ्टवेयर कोडिंग पूरी कर ली। आकांक्षा ने बताया कि टोपी हो या फिर हेलमेट इसके ऊपर एक छोटा सा डिवाइस लगाया गया है, जिसमें सेंसर लगे हैं। डिवाइस में डिस्टेंस की रेंज और अलार्म को सेट किया जा सकता है।

Read More : कोरोना लॉकडाउन में शासन की रोक के बाद भी डीपीएस ने पालकों से वसूली फीस, शोकॉज नोटिस जारी

खुद से रोटेट होगा कैप पर लगा डिवाइस
इस डिवाइस की खासियत यह है कि यह 360 डिग्री में रोटेट हो सकता है। यानी किसी भी ओर से कोई दायरे के करीब आ गया तो कैप पर लगा डिवाइस अलार्म बजाना शुरू कर देगा। इससे दोनों को पता चल जाएगा कि वे सोशल डिस्टेंस फॉलो नहीं कर रहे हैं, और उन्हें पीछे की तरफ हटना पड़ेगा।

इनके लिए बड़ा काम आएगा
आकांक्षा ने बताया कि यह डिवाइस खासकर मेडिकल स्टाफ के बड़े काम आएगा। अस्पतालों में मरीजों के साथ डिस्टेंसिंग मेंटेन करने में मदद मिलेगी। इसी तरह मेडिकल स्टाफ अभी गली-मोहल्ले में घूमकर मरीजों की जांच कर रहे हैं, ऐसे में वह जब वहां जाएंगे तो खुद की हिफाजत के लिए भी इसका बड़ा उपयोग कर सकेंगे। पुलिस के लिए भी काम आएगा।

Read More : लॉकडाउन में पालकों को स्कूल बुलाकर बांटी पुस्तकें, निजी स्कूल पर लगाया एक लाख का जुर्माना

Covid-19 : लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंस तोड़ा तो अलार्म बजा देगी यह हाईटेक कैप

कैसे किया तैयार
लॉकडाउन में जहां युवा इस समय वेब सीरीज और गेम्स खेल कर समय काट रहे हैं, वहीं आकांक्षा जैसे विद्यार्थी अपनी पढ़ाई और नॉलेज का फायदा उठा रहे हैं। आकांक्षा ने बताया कि ये डिवाइस एम्बेडेट सिस्टम माइक्रो कंट्रोलर और अल्टा सोनिक सेंसर का उपयोग करके तैयार किया है। इसके लिए कंप्यूटर कोडिंग भी करनी पड़ी। सबसे खास बात यह है कि इसे बनाने में महज 500 रुपए का खर्च आया है।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

Corona virus
Show More
Satya Narayan Shukla Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned