जिला में फिर कोरोना से तीन की मौत, छत्तीसगढ़ में सबसे अधिक संक्रमित मिले

रेलवे स्टेशन, स्कूल और नर्सिंग कॉलेज में की गई कोरोना जांच.

By: Abdul Salam

Published: 26 Feb 2021, 11:18 PM IST

भिलाई. कोरोना ने जिला में फिर एक बार कहर ढाया है। शुक्रवार को जिला में रहने वाले तीन संक्रमितों की मौत हो गई। वहीं छत्तीसगढ़ में सबसे अधिक संक्रमित भी हमारे जिला में ही मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने इस बीच कोरोना जांच की संख्या को बढ़ाने कवायद तेज कर दिया है। वहीं सोशल डिस्टेंस का पालन होता कहीं नजर नहीं आ रहा है। मार्केट, प्रदर्शन स्थल से लेकर अस्पताल तक में भीड़ देखने को मिल रही है।

हाइपरटेंशन व डायबीटिज भी था मरीजों को
कोरोना से पाटन में रहने वाले 78 साल के एक बुजुर्ग की एम्स, रायपुर में मौत हुई है। उनको ब्रेथलेसनेस, कफ, हाइपरटेंशन भी था। इसी तरह से चरोदा में रहने वाले एक 73 साल के बुजुर्ग की एनएचएमएमआई हॉस्पिटल, रायपुर में मौत हुई है। उनको ब्रेथलेसनेस कफ, गले में खराश की शिकायत पर 20 फरवरी 2021 को दाखिल किया गया। उनको इसके अलावा डायबीटिज, क्रानिक ल्यूकीमिया की भी शिकायत थी। इनकी मौत शुक्रवार को हुई है। दुर्ग में रहने वाली 53 साल की महिला को सांस लेने में तकलीफ होने की वजह से 14 फरवरी 2021 को एसएसआईएमएस कोविड हॉस्पिटल में दाखिल किया गया। उनको हाइपरटेंशन व डायबीटिज की भी शिकायत थी। उनकी शुक्रवार को मौत हो गई।

सबसे अधिक मिले संक्रमित दुर्ग में
जिला में शुक्रवार को 62 नए मरीज मिले हैं। छत्तीसगढ़ में दूसरे नंबर पर रायपुर चला गया है, वहां सिर्फ 59 नए मरीज मिले हैं। आज प्रदेश में कुल मौत 6 है जिसमें से पचास फीसदी दुर्ग के संक्रमितों की हुई है। प्रदेश में आज सबसे अधिक मौत भी दुर्ग में ही हुई है। दुर्ग में तीन, बेमेतरा में एक, रायगढ़ में एक, जशपुर में एक की मौत हुई है। जिला में अब तक 27826 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिसमें से 26409 मरीज ठीक हो चुके हैं। इस वक्त एक्टिव केस बढ़कर 776 हो गए हैं।

रेलवे स्टेशन, स्कूल और नर्सिंग कॉलेज में की गई कोरोना जांच

कोविड-19 जांच की संख्या को बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य विभाग, दुर्ग ने शुक्रवार को दो शैक्षणिक संस्था और एक रेलवे स्टेशन में जांच शुरू की। अब हर दिन अलग-अलग स्कूल के तमाम स्टाफ की जांच की जाएगी। इसके अलावा जिस बच्चे में लक्षण नजर आएगा उसकी भी जांच की जाएगी। पिछले कुछ समय से कोरोना जांच कराने वालों की संख्या धीरे-धीरे कम होती जा रही थी, वहीं संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। छत्तीसगढ़ में सबसे अधिक मरीज पिछले कुछ दिनों से दुर्ग जिला में ही मिल रहे हैं। इससे साफ है कि जिला में कोरोना वायरस का प्रभाव पूरी तरह से अभी भी खत्म नहीं हुआ है।

आरटीपीसीआर रिपोर्ट आने में लगेगा वक्त
स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शुक्रवार को दीपक नगर, दुर्ग के एक स्कूल के तमाम स्टाफ और दुर्ग के ही एक नर्सिंग कॉलेज के स्टाफ व छात्राओं की कोरोना जांच की है। इसके साथ-साथ दुर्ग रेलवे स्टेशन में भी कोविड-19 जांच स्टेशन में मौजूद मुसाफिरों की किए हैं। आरटीपीसीआर जांच आने में वक्त लगेगा। एंटिजल में कोई भी पॉजिविट नहीं आया।

जांच करवाने से किया मना
स्वास्थ्य विभाग से एक टीम शुक्रवार को सुबह कोरोना जांच करने के लिए रुआबांधा के उप स्वास्थ्य केंद्र पहुंची। यहां गर्भवती महिलाएं मौजूद थी। जांच कराने के लिए जब उनसे कहा गया तो एक को छोड़ सभी ने जांच करने से मना कर दिया। इससे साफ है कि लोग अभी भी जागरूक नहीं हुए हैं।

COVID-19
Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned