CG के नन्हे तैराकों की प्रतिभा के कायल हुए केंद्रीय खेल मंत्री, बोले गांव के तालाब में सीखकर यहां पहुंचे यानि टैलेंटेड हो..

CG के नन्हे तैराकों की प्रतिभा के कायल हुए केंद्रीय खेल मंत्री, बोले गांव के तालाब में सीखकर यहां पहुंचे यानि टैलेंटेड हो..

Dakshi Sahu | Updated: 21 Jul 2019, 11:04:29 AM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू (Union Sports Minister Kiren Rijiju) साई में सैकड़ों खिलाडिय़ों (Players) से मिले, तब नन्हे तैराकों ( swimmers) की प्रतिभा जानकर वो इस कदर प्रभावित हुए कि उन्होंने भोजन इन तैराकों के साथ किया। (Bhilai news)

भिलाई. पुरई के नन्हे तैराक छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) का नाम रौशन कर रहे हैं। भारत सरकार (India Government) के खेल मंत्रालय (Ministry of sports) ने इन 12 तैराकों को गोद लेकर गुजरात के खेल प्राधिकरण (Sports Authority of India) में प्रशिक्षण का इंतजाम किया है। केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू (Union Sports s Minister Kiren Rijiju) साई में सैकड़ों खिलाडिय़ों से मिले, तब नन्हे तैराकों (swimmers) की प्रतिभा जानकर वो इस कदर प्रभावित हुए कि उन्होंने भोजन इन तैराकों के साथ किया। (Bhilai news)

मंत्री बोले-छत्तीसगढ़ से यहां पहुंचे यानी टैलेंटेड के साथ स्मार्ट भी हो
साई गुजरात में तैराकी (swimming) का प्रशिक्षण हासिल कर रहे पुरई (Khel gaon purai) के तैराक लक्की ने बताया कि हम खाने के टेबल पर बैठे थे। धीरे-धीरे ऑफिसर्स आए। इतने में खेल मंत्री रिजिजू आकर हमारे बीच बैठ गए। हमें पता ही नहीं था, कि कौन हैं? खेल मंत्री ने पूछा-कौन से प्रदेश से हो? हमने कहा- छत्तीसगढ़। यह सुनते ही वे चौंक गए और बोले, वाह... यहां पहुंचे मतलब टैलेंटेड के साथ स्मार्ट भी हो।

CG Swimmer

सफाई में छत्तीसगढ़ के बच्चों को बताया बेहतर
मंत्री ने फिर पूछा-कौन सा खेल? हमने उत्तर दिया कि सर... स्वीमिंग के लिए सिलेक्टेड हैं। यह सुनकर बोले कि आप सभी पहले हो जो इतनी छोटी उम्र में यह पहुंच पाए। डोमन ने बताया कि मंत्री ने खिलाडिय़ों के कमरों का निरीक्षण किया। वे हमारे कमरों में आए और बोले, साफ सफाई में बच्चों तुम बड़ों से बेहतर हो। खिलाड़ी को जितनी जरूरत प्रोटीन की होती है उतनी सफाई की।

पीएमओ पहुंची पुरई की पुकार
ओम ओझा नन्हे तैराकों को सिखा रहे थे, तब पत्रिका इनकी आवाज बना। पीएमओ तक पुरई की पुकार पहुंची। दिल्ली से आई साई की टीम ने राष्ट्रीय रिकॉर्ड के आधार पर बच्चों का ट्रायल किया और धन्नु ओझा, भूमिका ओझा, हेमलता ओझा, चंद्रकला ओझा, लक्की ओझा, सिद्धार्थ ओझा, रवि ओझा, सम्राट ओझा, लोभ कुमार, लाकेश, डोमन और दिग्विजय गांधीनगर गए। (Bhilai news)

Chhattisgarh Bhilai से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned