बीएसपी में क्रेन चलते समय वाइब्रेशन से गिरती है शीट

बीएसपी में क्रेन चलते समय वाइब्रेशन से गिरती है शीट
BHILAI

Abdul Salam | Updated: 04 Jul 2019, 12:03:35 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

भिलाई इस्पात संयंत्र कर्मियों के हित में होने वाले आंदोलन से दूर रह कर आंदोलन को कमजोर करने वाले बता रहे दिक्कत।

भिलाई. भिलाई इस्पात संयंत्र के एसएमएस-2 में कर्मियों को जान जोखिम में डालकर उत्पादन लिया जा रहा है। यहां क्रेन चलती है, तो मिक्सर के ऊपर की छत की सीट वाइब्रेशन सेनीचे गिरने लगती है। इंटक के पदाधिकारियों को यहां के कर्मियों ने यह बताया। कर्मियों ने प्रबंधन के रवैए को लेकर नाराजगी जाहिर की। महासचिव एसके बघेल ने कहा कि कर्मियों की सुरक्षा को प्राथमिकता दिया जाना है। उच्च प्रबंधन से मिलकर वे यहां के मामले को लेकर चर्चा करेंगे।
६ माह में हो चुकी १२ दुर्घटनाएं
एसएमएस-२ में ६ माग के दौरान १२ दुर्घटनाएं हो चुकी है। इसके बाद भी प्रबंधन इसके मेंटनेंस पर ध्यान नहीं दे रहा है। जिससे बड़ा हादसा होने की आशंका बनी हुई है। यहां के कर्मचारी हर दिन कई बार ५० से ६० फीट ऊपर सीढ़ी चढ़कर जा रहे हैं। यहां की लिफ्ट करीब डेढ़ माह से खराब पड़ी है। शिकायत पर प्रबंधन को कोई असर नहीं पड़ रहा है।
जिन्होंने अब तक कुछ नहीं किया, वे कर रहे कर्मियों को गुमराह
महासचिव ने कहा कि जो यूनियन अब तक कर्मियों के बीच कोई काम नहीं की है। आंदोलन में हिस्सा लेने के स्थान पर प्रबंधन के साथ पूरे टीम के साथ ड्यूटी कर रही थी, वह अब कर्मियों की समस्याओं को लेकर बड़ी-बड़ी बात कर रही है। यह वही लोग है, जो आंदोलन को कमजोर करने का काम कर रहे थे। अब चुनाव जीतने के लिए जिनके खिलाफ बयान देते थे, उसके पीछे जाकर खड़े हो गए हैं। इंटक ने खुद आंदोलन किया और संयुक्त आंदोलन में कर्मियों के हित में संघर्ष किया। वहां अपने हित को किनारे रख कर्मियों के हित में लड़ाई लड़ी। यह बात हर कर्मचारी जान रहा है। इस मौके पर संतोष साव, एसएस साहू, राकेश दुबे, एसएस ठाकुर, पीवी राव, राजेंद्र वर्मा, केडी कुरैशी, रमेश तिवारी, संजय साहू, आरके देवांगन, अशोक त्रिपाठी मौजूद थे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned