दुल्हन लेने जा रहे दूल्हे को क्यों सॉरी बोलना पड़ा, पढ़ें खबर

दुल्हन लेने जा रहे दूल्हे को क्यों सॉरी बोलना पड़ा, पढ़ें खबर

Satyanarayan Shukla | Publish: May, 18 2019 10:38:39 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

बैंड बाजे और दोस्त यार व परिजन के साथ दुल्हन लेने जा रहे दूल्हे की कार को पुलिस ने रोक दिया तो सब आवाक रह गए। लोगों को समझ में नहीं आ रहा था कि कार चालक से ऐसी क्या गलती हो गई? पुलिस ने चालक सहित दूल्हे की गलती बताई तब परिजन ने राहत की सांस ली।

बालोद@Patrika. बैंड बाजे और दोस्त यार व परिजन के साथ दुल्हन लेने जा रहे दूल्हे की कार को पुलिस ने रोक दिया तो सब आवाक रह गए। लोगों को समझ में नहीं आ रहा था कि कार चालक से ऐसी क्या गलती हो गई? पुलिस ने चालक सहित दूल्हे की गलती बताई तब परिजन ने राहत की सांस ली। दरअसल मामला चालक के साथ सामने की सीट पर बैठे दूल्हे ने सीट बेल्ट नहीं बांधी थी। पुलिस ने दूल्हे के सीट बेल्ट बांधने के बाद और ट्रैफिक नियमों का पालन करने की चेतावनी के बाद बारात को जाने दिया।

बारात जा रहे दूल्हे की कार पर पुलिस की नजर पड़ी

मामला शनिवार को गुण्डरदेही के ग्राम कचांदुर के पास मुख्य मार्ग में पुलिस विभाग द्वारा जनजागरूकता अभियान सहित लापरवाहीपूर्वक वाहन चलाने वाले चालकों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही थी। इसी दौरान कार में बारात जा रहे दूल्हे पर पुलिस की नजर पड़ी। कार चालक तो बेल्ट बांधा था, वहीं चालक के बगल में बिना सीट बेल्ट बांधे दूल्हे राजा बैठा था। पुलिस ने कहा कि टै्रफिक नियम का पालन करों और सीट बेल्ट बांधकर दुल्हन लेने जाओ। दूल्हे के सीट बेल्ट बांधने के बाद कार सहित पीछे चल रहे बाराती वाहन को रवाना किया। दूल्हा राजा ने भी सॉरी बोला और सीट बेल्ट लगाकर दुल्हन लेने रवाना हुए।

बाइक चालकों को दिए हेलमेट
पुलिस ने बिना हेलमेट पहने बाइक चालकों को रोककर हेलमेट दिए और कीमत वसूल कर आगे जाने दिया। बता दें कि जिले में बढ़ रही सड़क दुर्घटनाओं को देखते हुए पुलिस विभाग की ओर जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। सड़क दुर्घटनाओं को रोकने पुलिस लोगों को हेलमेट पहनकर मोटर साइकिल चलाने की अपील कर रही है।

सड़क दुर्घटना में 90 फीसदी मौत सिर में चोट लगने से
यातायात पुलिस की मानें तो सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतें सिर पर चोट लगने होती है। सड़क दुर्घटना से मौत के मामले में 90 फीसदी बिना हेलमेट सिर पर चोट लगने को एक प्रमुख कारण माना जाता है। बालोद पुलिस हर साल जागरुकता अभियान चलाती है। इसके बाद भी लोग जागरुक नहीं हो रहे हैं। लापरवाही और ट्रफिक नियमों का पालन नहीं करने के कारण कभी कभी बड़ी दुर्घटनाए घट जाती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned