लॉकडाउन में नहीं चुका सका किस्त, परिवार ने खाया जहर, पति की मौत, लिया था 12 लाख का कर्ज

व्यवसाय के लिए कर्जे की किश्त राशि नहीं चुकाने को लेकर अवसाद में आए एक परिवार के तीन सदस्यों ने विषाक्त खा लिया।

By: santosh

Published: 10 Jun 2020, 02:15 PM IST

भीलवाड़ा। व्यवसाय के लिए कर्जे की किश्त राशि नहीं चुकाने को लेकर अवसाद में आए एक परिवार के तीन सदस्यों ने विषाक्त खा लिया। उनको महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां पति ने दम तोड़ दिया। पत्नी और बेटा भर्ती है। पत्नी की हालत गम्भीर है। पुर थाना पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सुपुर्द किया। मृतक का शाहपुरा में अंतिम संस्कार किया गया।

पुलिस उपनिरीक्षक रामगोपाल चौधरी ने बताया कि चित्तौडग़ढ़ मार्ग पर आटूण रोड स्थित शाहपुरा हाल कमला नैनो सोसायटी स्थित फ्लेट में रह रहे मोहित (40) पुत्र सूर्यप्रकाश बिड़ला, उसकी पत्नी रिंकू (38) और पुत्र देव (17) ने विषाक्त खा लिया। पता चलने पर पड़ोसियों ने परिजनों को सूचना दी। तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस दौरान मोहित की मौत हो गई। सूचना पर पुलिस वहां पहुंची। रिंकू की बात करने की स्थिति में नहीं थी। बेटा कुछ कह नहीं पा रहा था।


दो दिन से था गुमसुम

परिजनों के मुताबिक मोहित की आजाद चौक में गारमेंट्स की दुकान है। उसने व्यवसाय के सिलसिले में बारह लाख का कर्जा लिया था। लॉकडाउन के कारण किस्तें नहीं चुका पाया था। इससे परिवार अवसाद में आ गया। बताया जाता है कि मोहित दो दिन से गुमसुम था। परिजनों के बयान नहीं होने से स्थिति साफ नहीं हो पाई। पुलिस ने मोहित के फ्लेट को फिलहाल सील कर दिया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned