राजसमंद हादसा: गिरता रहा एसिड, वैन में फंसे चिल्लाते रहे, इनकी हुई मौत

राजसमंद हादसा: गिरता रहा एसिड, वैन में फंसे चिल्लाते रहे, इनकी हुई मौत

kamlesh sharma | Publish: Aug, 23 2019 07:30:00 PM (IST) Bhilwara, Bhilwara, Rajasthan, India

देसूरी की नाल में पंजाब मोड़ के पास शुक्रवार दोपहर एसिड से भरा टैंकर ब्रेक फेल होने पर सामने से आ रही वैन पर पलट गया।

भीलवाड़ा/राजसमंद। देसूरी की नाल में पंजाब मोड़ के पास शुक्रवार दोपहर एसिड से भरा टैंकर ब्रेक फेल होने पर सामने से आ रही वैन पर पलट गया। टैंकर में भरा एसिड गिरने से शाहपुरा के दो परिवारों के आठ सदस्यों समेत नौ जनों की मौत हो गई। हादसे के दो घंटे बाद क्रेन टैंकर को हटाने के बाद वैन में फंसे शव निकाले जा सके। शव चारभुजा मुर्दाघर में पहुंचाने व दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को हटाने के करीब साढ़े चार घंटे बाद यातायात व्यवस्था बहाल हो सकी। मृतकों में दो महिला, तीन बच्चों सहित चार पुरुष शामिल हैं।

राजसमंद हादसा: जहां 9 लोगों की मौत हुई वहां 2007 में 100 से अधिक लोगों की हुई थी दर्दनाक मौत

हादसे के बाद टैंकर से एसिड कार पर गिरता रहा और वैन में फंसे लोग चीखते-चिल्लाते रहे। कुछ देर में सभी ने दम तोड़ दिया। हादसे के बाद बड़ी तादाद में लोग और पुलिस भी पहुंच गई। एसिड गिरने से वैन में फंसे लोगों निकालना मुश्किल हो गया। फिर जेसीबी मंगवाकर पहाड़ी खोदकर घटनास्तल की चौड़ाई बढ़ाई गई और हाइड्रो क्रेन से करीब ढाई बजे शव बाहर निकाले जा सके, तब तक एसिड से शव झुलस गए। शवों को चारभुजा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के मुर्दाघर में रखवा दिए गए।

इनकी हुई मौत
शाहपुरा निवासी मुकेश (47) पुत्र रामगोपाल अग्रवाल, ममता (45) पत्नी मुकेश अग्रवाल, यश (12) पुत्र मुकेश, दर्शिल (6) पुत्र मुकेश, पंकज (40) पुत्र निर्मलकुमार जैन, सरिता (३८) पत्नी पंकज जैन, अंगना (15) पुत्री पंकज जैन, अनन्या (11) पुत्री पंकज जैन व जयंत अग्रवाल (१७) निवासी बांसी बोरड़ा (नीमच-मध्यप्रदेश)।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned