आगाज: सोशल मीडिया पर दोस्ती, फिर फोन नंबर मांग वीडियो कॉलिंग, अंजाम: अश्लील वीडियो बना ब्लैकमेल

अब तक आपके खाते को हैंग कर खरीदारी या राशि निकाली जाने की बात सुनी होगी। अब जालसाजों ने सोशल मीडिया पर ब्लैकमेलिंग का नया रास्ता निकाल लिया है। पहले युवती के नाम से दोस्ती का पैगाम भेजते हैं। उसके बाद वाट्सअप नम्बर लेकर गलत काम के लिए उकसाया जाता है और फोटो एडिट कर अश्लील वीडियो बनाया जाता है। इस वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर रुपए मांगे जाते हैं।

By: Akash Mathur

Published: 16 Jun 2021, 09:41 AM IST

केस-1

भीलवाड़ा के शास्त्रीनगर निवासी राजकुमार शर्मा (बदला नाम) को फेसबुक पर लड़की के नाम से फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। मैसेंजर के जरिए वाट्सअप नम्बर मांगे। फिर वाट्सअप पर वीडियो कॉल कर गलत काम के लिए उकसाया। राजकुमार का फोन हैंग कर उसकी फोटो उतार ली। फोटो एडिट कर राजकुमार का अश्लील वीडियो बना लिया। उस वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर २५ हजार रुपए एेंठ लिए।

केस-2

भीलवाड़ा के बापूनगर निवासी सुंदर कुमार (बदला नाम) सोशल मीडिया पर पहले दोस्ती की। मोबाइल नम्बर लेकर वाट्सअप कॉलिंग किया। लड़की के नाम पर कॉल आते ही सुंदरलाल ने बात की। सुंदरलाल का फोटो खींच लिया गया। उसकी फोटो एडिट कर अश्लील वीडियो बनाया। वीडियो के जरिए जालसाज ने २० हजार मांगे। नहीं देने पर सोशल मीडिया पर उसके कुछ साथियों को भेजकर बदनाम किया।
...................

भीलवाड़ा. अब तक आपके खाते को हैंग कर खरीदारी या राशि निकाली जाने की बात सुनी होगी। अब जालसाजों ने सोशल मीडिया पर ब्लैकमेलिंग का नया रास्ता निकाल लिया है। पहले युवती के नाम से दोस्ती का पैगाम भेजते हैं। उसके बाद वाट्सअप नम्बर लेकर गलत काम के लिए उकसाया जाता है और फोटो एडिट कर अश्लील वीडियो बनाया जाता है। इस वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर रुपए मांगे जाते हैं। यह उदाहरण इसकी बानगी को साबित करने के लिए काफी है। हालांकि हमने पीडित की निजता को ध्यान में रखकर नाम बदला है। भीलवाड़ा जिले में भी इस तरह के कई लोग जालसाजों का शिकार हुए।
इस तरह होती है शुरुआत

सोशल मीडिया पर युवती के नाम से फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी जाती है। इसे स्वीकार करते ही युवती के नाम से सम्बंधित व्यक्ति के मैसेंजर पर मैसेज भेजकर वाट्सअप नम्बर मांगा जाता है। उसे निजी बात करने की झांसा दिया जाता है। कई लोग झांसे में आकर नम्बर दे देते हैं। फिर वाट्सअप पर मैसेज के जरिए जालसाज युवती के नाम से बात करते हैं। फिर वीडियो कॉल के लिए उकसाया जाता है। वीडियो कॉल करने पर युवती सामने आती है। वह फोन पर गलत काम के लिए उकसाती है। इस दौरान वीडियो कॉल करने वाला फोटो खींच लिया जाता है। गलत काम करने के वीडियो रिकॉर्ड कर लिया जाता है।

वीडियो भेज सौदेबाजी शुरू
शहर में अश्लील वीडियो बनाने के एेसे कुछ मामले सामने आए हैं। उसे सम्बंधित व्यक्ति के मोबाइल पर भेजकर राशि की मांग की। नहीं देने पर सोशल मीडिया वायरल करने की धमकी दी। इसके साथ जालसाजों की ओर से सौदेबाजी शुरू हुई। सोशल मीडिया एकाउंट पर सम्बंधित व्यक्ति के लोगों को भेजकर बदनाम करने की धमकी दी। धमकी से बेचने के लिए कुछ ने डिमांड की राशि बताए गए सम्बंधित बैंक खाते में डाल दी। मना करने पर वीडियो परिचितों को भेजा भी गया।

पुलिस के पास जाने से हिचक
इस तरह की जालसाजी का शिकार हुए लोग पुलिस के पास पहुंचने से कतराते हैं। जिस तरह से फोटो एडिट कर अश्लील वीडियो बनाया जाता है उससे सम्बंधित व्यक्ति शर्मसार होता है। मामला पुलिस तक नहीं पहुंचता। इससे जालसाजों के हौसले बुलंद हो रहे।

अनजान की रिक्वेस्ट न स्वीकारें
इस तरह की शिकायत सामने नहीं आई है। कोई भी अनजान व्यक्ति या महिला की फ्रेंड रिक्वेस्ट को स्वीकार नहीं करें। सावधानी जरूरी है। मैसेज आने पर ध्यान नहीं दें। कोई धमकाए या गलत रूप से पैसों की मांग करता है तो सम्बंधित थाना पुलिस को बताएं। साइबर सेल के माध्यम से पता लगाकर कार्रवाई की जाएगी।
- गजेन्द्रसिंह जोधा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, भीलवाड़ा

Akash Mathur
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned