अनेदखी का शिकार माण्डल की मोर्चरी

माण्डल विधानसभा क्षेत्र की सबसे बड़े शहीद जमना लाल भट्ट, कम्पाउण्डर, राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की मोर्चरी दुर्दशा का शिकार है। इससे वहां पहुंचने वाले गमजदा परिजन और पुलिस को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसे लेकर कई बार ध्यान दिलाने के बाद भी स्थिति में कोई परिवर्तन नहीं हुआ।

By: Akash Mathur

Published: 13 Sep 2021, 10:36 PM IST

भीलवाड़ा. माण्डल विधानसभा क्षेत्र की सबसे बड़े शहीद जमना लाल भट्ट, कम्पाउण्डर, राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की मोर्चरी दुर्दशा का शिकार है। इससे वहां पहुंचने वाले गमजदा परिजन और पुलिस को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसे लेकर कई बार ध्यान दिलाने के बाद भी स्थिति में कोई परिवर्तन नहीं हुआ।

जानकारी के अनुसार मोर्चरी के मुख्य दरवाजे तक घास झाड़-झंकार उगे हैं। वहां पहुंचने वाले मार्ग पर कांटे उग रहे हैं। वाहनों को दूर खड़ा कर शवों को हाथों में उठाकर ले जाने की मजबूरी है। मोर्चरी रूम में बिजली के उपकरण अस्त-व्यस्त हैं। तार व बिजली के बॉक्स खुले पड़े है। मोर्चरी के बाहर बैठने की व्यवस्था तक नहीं है। पुलिसकर्मियों को खड़े रहकर कार्रवाई करनी पड़ती है। मानसून काल में तो समस्या और बढ़ जाती है। तेज बारिश के बाद मोर्चरी के बाहर तालाब के हालात हो जाते है। एेसे में मोर्चरी में शव रखने तक में परेशानी होती है।

इनका कहना है
शीघ्र ही मार्ग की सफ ाई करवा कर समस्या का समाधान करवा जाएगा। टूट-फूट को भी सहीं करवाई जाएगी।
- भंवरलाल शर्मा, चिकित्सा प्रभारी, माण्डल

Akash Mathur
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned