जीएसटी जमा का एक और मौका, 30 तक बढ़ाई अवधि

एमनेस्टी स्कीम-2021

By: Suresh Jain

Published: 07 Sep 2021, 09:24 PM IST

भीलवाड़ा।
कोरोना काल में सरकार से ब्याज व शास्ती में भारी छूट के बावजूद कम आवेदक आने पर व्यापारियों को एक और मौका दिया गया है। सरकार ने एमनेस्टी स्कीम 30 सितम्बर तक बढ़ा दी। व्यवसायियों की पूर्ण शास्ति एवं ब्याज माफ करते हुए कर राशि ही जमा करा छूट दी जाएगी।
वाणिज्यिक कर विभाग के उपायुक्त (प्रशासन) मोहम्मद हुसैन ने बताया कि बकाया मांग का पूर्ण कर के साथ जमा कराने के साथ स्कीम का लाभ लेने एवं साथ ही घोषणा प्रपत्र पेश करने का प्रमाण पत्र देने का समय भी 30 सितम्बर किया है। जिन व्यवसायियों की घोषणा प्रपत्र में मांग बकाया है वे इस माह के अंत तक बकाया कर का 30 प्रतिशत जमा करा समस्त मांग राशि की छूट ले सकते हैं।
एकतरफा वाले भी कर सकेंगे आवेदन
जिन व्यवसायियों के कर निर्धारण उनकी अनुपस्थिति में एक तरफा पारित किए थे, वे आवेदन सीधे ही सम्बन्धित अधिकारी को प्रस्तुत कर अपने कर निर्धारण को दुबारा करवा सकते हैं। इसकी मियाद भी राज्य सरकार की ओर से 30 सितम्बर तय की है। उन सभी प्रकरणों का अधिकारियों द्वारा तुरंत निष्पादन किया जा रहा है। समस्या आने पर सम्बन्धित वृत्ताधिकारी अथवा उपायुक्त प्रशासन से सीधे भी मिला जा सकता है।
आवेदक नहीं आ रहे
भारी संख्या में ऐसे प्रकरण लंबित हैं जिनमें व्यवसायियों द्वारा एमनेस्टी स्कीम में आवेदन कर दिया है, विभाग ने उन्हें बकाया मांग से ऑनलाइन सूचित कर दिया है लेकिन व्यवसायियों ने जवाब नहीं दिया। बकाया मांग को ऑनलाइन देखा भी नहीं। एमनेस्टी स्कीम-2021 का आवेदन ऑनलाइन वेबसाइट के माध्यम से किया जा सकता है।

Suresh Jain Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned