जंगल में वृद्ध की गला रेतकर हत्या कर गहने लूट के मामले का राजफाश

जंगल में वृद्ध की गला रेतकर हत्या कर गहने लूट के मामले का राजफाश
जलीन्द्री ग्राम पंचायत के बड़ोद‍िया गांव में आठ दिन पूर्व जंगल में बकरियां चरा रहे वृद्ध की गला रेतकर हत्या करने और गहने लूट कर ले जाने के मामले का गुरुवार को पुलिस ने राजफाश कर दिया।

Tej Narayan Sharma | Publish: Jan, 25 2018 10:50:55 PM (IST) Bhilwara, Rajasthan, India

वृद्ध की हत्या करने और गहने लूट कर ले जाने के मामले का पुलिस ने राजफाश कर दिया।

बिजौलियां।

क्षेत्र के जलीन्द्री ग्राम पंचायत के बड़ोद‍िया गांव में आठ दिन पूर्व जंगल में बकरियां चरा रहे वृद्ध की गला रेतकर हत्या करने और गहने लूट कर ले जाने के मामले का गुरुवार को पुलिस ने राजफाश कर दिया। बिजौलियां थाना पुलिस ने हत्या के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया। उससे गहने बरामद करने का प्रयास किया जा रहा है।

 

READ: कपास फैक्ट्री में भीषण आग, लाखों का नुकसान


अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पारस जैन ने बताया कि बड़ोदिया निवासी मांगीलाल मीणा (60) की हत्या के आरोप में दूदियाखेड़ी (बिजौलियां) निवासी महेन्द्र बंजारा (20) को गिरफ्तार किया गया। उससे मृतक के लूटी गई एक तोले की सोने की मुरकियां व चांदी के कड़े बरामद करना है। थानाप्रभारी सुगनसिंह के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया था।

 

READ: हम नहीं करेंगे पद्ममावत का प्रदर्शन, कई मार्ग पर रोडवेज का संचालन बंद


पूछताछ में महेन्द्र ने बताया कि वह झुंझुनू जिले में मजदूरी करता है। गत 18 जनवरी को वहां से जलीन्द्री रेलवे स्टेशन पर उतरा। पैदल ही घर की तरफ जा रहा था। अमरपुरा गांव में आरोपित ने ठेके पर शराब पी। उसके बाद पटरियों के सहारे पैदल घर जा रहा था। रास्ते में उसने मांगीलाल को बकरियां चराते हुए देखा। मांगीलाल के कान में पहनी मुरकियां व हाथ में कड़े देखकर लालच जाग गया। मांगीलाल पेड़ पर चढ़कर बकरियों के लिए टहनियां काट रहा था।

 

इस दौरान महेन्द्र ने भी वृद्ध का विश्वास जीतने के लिए टहनियां काटने में उसकी मदद करना शुरू कर दिया। इस दौरान मांगीलाल ने टहनियां काटने के लिए कुल्हाड़ी आरोपित को दे दी। इस पर महेन्द्र टहनियां काटने लगा। मौका देखते ही उसने पीछे से वृद्ध को पकड़ लिया और उसका गला रेत दिया। इससे मौके पर ही मांगीलाल की मौत हो गई। उसके बाद मुरकियां और कड़े लूटकर भाग गया।

 

 

मोबाइल ने पकड़वाया
हत्या की वारदात के बाद आनन-फानन में आरोपित का मोबाइल वहीं गिर गया था। पुलिस ने उसे मोबाइल को बरामद किया था। हालांकि सिम बंद थी। लेकिन मोबाइल के आईएमए नम्बर निकलवाने पर महेन्द्र का नाम सामने आया। वहीं आसपास के लोगों से पूछताछ में उसने घटना के समय वहां देखे जाने पर शक की सुई उस पर घूम गई। मालूम हो, गत 19 जनवरी को बड़ाेद‍िया के निकट जंगल में मांगीलाल का शव लहूलुहान हालत में मिला था। उसका गला रेता हुआ था और मुरकियां व कड़े गायब थे। परिजनों ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हत्या और लूट का मामला दर्ज कराया था।

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned